Select location to see news around that location.Select Location

नशा मुक्ति केंद्र में मरीजों को न दवा, न डॉक्टर; पीटकर छुड़वा रहे थे नशा

नशा मुक्ति केंद्र में मरीजों को न दवा, न डॉक्टर; पीटकर छुड़वा रहे थे नशा

नशा मुक्ति केंद्र में मरीजों को न दवा, न डॉक्टर; पीटकर छुड़वा रहे थे नशा

संगरूर में हेल्थ टीम ने अवैध नशा मुक्ति केंद्र में बंधक बनाए 23 मरीजों को छुड़वाया

संगरूर. हेल्थ टीम ने अवैध नशामुक्ति केंद्र में रेड कर बंदी बनाए 23 मरीजों को छुड़ाया जबकि 7 मरीज भाग गए। संचालक भी फरार हो गए। टीम ने रिकॉर्ड व सामान जब्त कर लिया है। मरीजों का आरोप है कि केंद्र में उन्हें रोज पीटा जाता था। 12 मरीजों को सिविल में भर्ती करवाया। अन्य को परिजन ले गए। नशा मुक्ति केंद्र एकता फाउंडेशन के नाम से गांव राम नगर सीबिया के बस स्टैंड के पास स्थित एक कोठी में चल रहा था। टीम ने सूचना पर शुक्रवार सुबह 11 बजे रेड की। पता चलते ही संचालकों ने सभी मरीजों को साथ की कोठी में बंद कर दिया और भाग निकले। टीम की कार्रवाई शाम 6 बजे तक चली।

सिविल सर्जन डॉ. मनजीत सिंह ने कहा, शिकायत पर 10 से अधिक अधिकारियों की टीम के साथ रेड की। अवैध केंद्र में मरीजों को बांधकर मारपीट करने की बात सामने आई है। मरीज अधिक नशे के आदी नहीं हैं। पुलिस ने हरविन्द्र सिंह निवासी गगड़पुर समेत उसके साथियों पर बंधक बनाकर रखने और ठगी का मामला दर्ज किया है।

हर महीने 9 हजार रुपए लेते थे संचालक: मरीजों ने बताया कि उनके परिवार से नशा छुड़वाने के नाम पर 9 हजार प्रति माह लिए जाते थे। जबकि केंद्र में कोई डाक्टर तक नहीं है। केंद्र को गगड़पुर का व्यक्ति चला रहा था जिसने 10 युवक रखे थे जोकि मरीजों को जबरी घर से उठाकर लाते थे और उनसे मारपीट करते थे।

हर महीने 9 हजार रुपए लेते थे संचालक: मरीजों ने बताया कि उनके परिवार से नशा छुड़वाने के नाम पर 9 हजार प्रति माह लिए जाते थे। जबकि केंद्र में कोई डाक्टर तक नहीं है। केंद्र को गगड़पुर का व्यक्ति चला रहा था जिसने 10 युवक रखे थे जोकि मरीजों को जबरी घर से उठाकर लाते थे और उनसे मारपीट करते थे।

सीसीटीवी पर फोटो दिखा मिलवातेे थे:समाना के गांव साहिजपुर खुर्द के गुरचरण सिंह ने बताया, वह 35 दिनों से यहां बंद है। उसे 10 घंटे तक दीवार की तरफ मुंह करके बिठा दिया जाता था। हिलने पर पीटा जाता था। घरवाले जब मिलने आते तो सीसीटीवी में उसकी फोटो दिखा दी जाती थी।


Khushboo

Khushboo

undefined Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top
To Top