महबूबा के तिरंगा वाले बयान पर FIR दर्ज करने की मांग

जंहा माराडोना को मिली शोहरत, वहीं लगी थी ड्रग्‍स की लत नीतीश कुमार ने किया तेजस्वी यादव पर पलटवार कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने चिंता जताई जानें चुकंदर खाने के 10 फायदे 'दिल्ली चलो' मार्च-किसानों को मिली दिल्ली में घुसने की इजाजत अगली सुनवाई 11 दिसंबर को होगी जेल से बाहर आने के लिए लालू को अभी और करना होगा इंतजार ममता को लगा बड़ा झटका-शुभेंदु अधिकारी ने परिवहन मंत्री के पद से दिया इस्तीफा Corona Update- जापान और कंबोडिया की लैब के फ्रीजर में पड़े मिले चमगादड़ों में मिले कोरोना के वायरस NCR के शहरों से दिल्ली में आज भी प्रवेश नहीं करेगी मेट्रो लालू की जमानत को लेकर बोलीं राबड़ी देवी-न्यायालय का जो भी फैसला होगा, मंजूर होगा Indian Air Force 2020 : आवेदन की प्रक्रिया शुरू, सिर्फ कल शाम 5 बजे तक का समय UP-लड़की के शव को नोच कर खा रहे है कुत्ते की फोटो हुई वायरल इस महीने फिर बढ़े 7वीं बार पेट्रोल-डीजल के दाम 27 नवम्बर का राशिफल आइए जानते है क्यों की जाती है कार्तिक पूर्णिमा के दिन तुलसी पूजा आज भी दिल्ली कूच पर अड़े किसान MSP से किसानों को परेशानी हुई तो छोड़ दूंगा राजनीति- सीएम खट्टर BJP विधायक ललन पासवान ने लालू यादव के खिलाफ दर्ज कराई FIR जर्मनी में 20 दिसंबर तक बढ़ाया गया लॉकडाउन संविधान दिवस पर PM मोदी ने देश को किया संबोधित, मुंबई हमले के शहीदों को किया नमन

महबूबा के तिरंगा वाले बयान पर FIR दर्ज करने की मांग

Anjali Yadav 24-10-2020 14:03:56

अंजलि यादव,

लोकल न्यूज ऑफ इंडिया,



नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती द्वारा राष्ट्र ध्वज के खिलाफ दिए गए बयान पर दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है और दिल्ली पुलिस कमिश्नर से उनके खिलाफ केस दर्ज करने की मांग की गई है. 



महबूबा ने झंडे को लेकर दिया विवादित बयान

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को विवादित बयान देते हुए कहा था कि जब तक हमें हमारा जम्मू-कश्मीर का झंडा वापस नहीं मिल जाता हम तिरंगा झंडा नहीं उठाएंगे.

महबूबा के इस बयान से नाराज सुप्रीम कोर्ट के वकील विनीत जिंदल ने महबूबा के खिलाफ नेशनल ऑनर एक्ट समेत आईपीसी की धारा 121, 151, 153A, 295, 298, 504, 505 के तहत मामला दर्ज करने की मांग की है. 



सरकार के खिलाफ लोगों को भड़काने का किया काम

दिल्ली पुलिस कमिश्नर को दिए अपनी शिकायत में विनीत जिंदल ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के विवादित बयान ने एक चुनी हुई सरकार के खिलाफ लोगों को भड़काने का काम किया है. साथ ही देश के राष्ट्रीय ध्वज का अपमान भी किया है. इसलिए उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए. दरअसल जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने विवादित बयान  देते हुए कहा है कि जब तक हमारा झंडा वापस नहीं मिल जाता हम दूसरा झंडा नहीं उठाएंगे.



2 झंडे वाली सियासत को फिर से बढ़ाया आगे

शुक्रवार को महबूबा मुफ्ती ने श्रीनगर में प्रेस कॉन्फ्रेंस में एक देश, दो झंडे वाली सियासत को एक बार फिर से आगे बढ़ाया. महबूबा ने पहले तो कहा कि वह अनुच्छेद 370 को वापस लेकर ही रहेंगी और ऐसा जबतक नहीं हो जाता है वो कोई चुनाव नहीं लड़ेंगी. इसके अलावा महबूबे ने भारत के राष्ट्रध्वज तिरंगे को लेकर भी अपमानजनक टिप्पणी की. महबूबा ने कहा "जिस वक्त हमारा ये झंडा वापस आएगा, हम उस (तिरंगा) झंडे को भी उठा लेंगे. मगर जब तक हमारा अपना झंडा, जिसे डाकुओं ने डाके में ले लिया है, तब तक हम किसी और झंडे को हाथ में नहीं उठाएंगे. वो झंडा हमारे आईन का हिस्सा है, हमारा झंडा तो ये है. उस झंडे से हमारा रिश्ता इस झंडे ने बनाया है."

  • |

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :