केजरीवाल और सिसोदिया को करना चाहिए हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा : दिल्ली HC दिल्ली हिंसा पर बोले पीएम मोदी : जल्द से जल्द हो शांति बहाल कपिल मिश्रा का वीडियो चलवा दिल्ली हिंसा पर हाईकोर्ट के जजों ने की सुनवाई अफवाहों पर ध्यान न दें लोग, दिल्ली मौजपुर हिंसा में अब तक 11 FIR दर्ज : दिल्ली पुलिस दिल्ली हिंसा पर बोले ट्रंप : भारत का अपना मामला इससे खुद ही निपटे दिल्ली हिंसा में 130 से ज्यादा अस्पताल में भर्ती, 9 की मौत दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले में जारी हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है अभी तक 15 से लोगो को लगी गोली बीजिंग की हवा में बड़ा सुधार, भारत मे सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर : रिपोर्ट स्वाइन फ्लू की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के 6 न्यायाधीश, मास्क पहनकर कोर्ट पहुंचे जस्टिस संजीव खन्ना LIVE : केजरीवाल भी पहुंचे गृह मंत्रालय, दिल्ली हिंसा पर हाईलेवल मीटिंग शुरू CAA : कई मेट्रो स्टेशन बंद, उत्तर-पूर्वी दिल्ली हिंसा में हेड कॉन्स्टेबल की मौत पत्नी संग आगरा ताज महल पहुंचे ट्रंप कहा वाह ताज साबरमती आश्रम पहुच विजिटर बुक मे ट्रंप ने लिखा 'थैंक्यू फ्रेंड मोदी' अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत की धरती पर रखा कदम ट्रम्प का भारत दौरा / मेलानिया दिल्ली के स्कूल में बच्चों से मिलेंगी, कार्यक्रम से केजरीवाल और सिसोदिया का नाम हटा भारत अमेरिका को व्यापार मे पाहुचा रहा है बड़ी चोट : डोनाल्ड ट्रम्प वायरल वीडियो में देखें उसका दर्द, नौ साल का बच्चा क्यों मरना चाहता है यूनिवर्सिटी से 93 की उम्र में मास्टर डिग्री ले सबसे उम्रदराज छात्र बने सीबीएसई स्कूलों के बच्चों ने ‘नो बैग डे’ को बताया ‘राइट चॉइस’ अब राम जी जुड़े स्थलों की यात्रा कराएगी 'श्री राम एक्सप्रेस'

मध्यप्रदेश: उज्जैन में अवैध जमीन पर बने होटल को बम से उड़ाया

Khushboo Diwakar 04-07-2019 16:45:54



मध्यप्रदेश के उज्जैन में बुधवार को एक बहुमंजिला होटल बम से विस्फोट कर उड़ा दिया गया. होटल की बहुमंजिला इमारत चंद मिनटों में ताश के पत्ते की तरह भरभराकर गिर पड़ी. बम धमाके को लेकर ज्यादा दिमाग ना लगाइए, विस्फोट प्रशासन ने ही कराया.

दरअसल मामला यह है कि महाकाल की नगरी उज्जैन में अवैध जमीन पर बने एक होटल को जमींदोज करने का आदेश हाई कोर्ट की डबल बेंच ने दिया था. उज्जैन के सबसे बड़े और आलीशान होटलों में से एक शांति पैलेस का निर्माण अवैध जमीन पर किए जाने की शिकायत पर सुनवाई के बाद अदालत ने यह आदेश दिया था. अदालती आदेश के अनुपालन में ही पुलिस-प्रशासन ने यह कार्रवाई की.

पिलरों में लगाए विस्फोटक, फिर किया विस्फोट

इंदौर के ब्लास्ट एक्सपर्ट शरद सरवटे ने होटल शांति पैलेस और क्लार्क्स-इन के पिलरों में पहले विस्फोटक लगाए, फिर विस्फोट किया गया. विस्फोट के बाद चमचमाता भवन चंद मिनटों में धराशायी हो गया. जानकारी के अनुसार इस होटल को कॉलोनी के लिए काटे गए प्लाट पर अवैध रूप से बनाया गया था.

करोड़ों की लागत से बना था सौ कमरों का होटल

इस होटल में सौ कमरे थे. इसके निर्माण पर अनुमानित लागत करोड़ों रुपये बताई जाती है. आरोपों के अनुसार तत्कालीन नगर निगम के अधिकारियों की मिलीभगत से उक्त होटल का निर्माण कराया गया था. निर्माण की वजह से होटल के निर्माण के समय किसी तरह का विवाद नहीं हुआ था.

मामला कोर्ट जाने के बाद हुआ एक मंजिल का निर्माण

होटल के अवैध जमीन पर निर्माण का मामला कोर्ट जाने के बाद मालिक ने एक मंजिल का और निर्माण कराया था. लंबी कानूनी प्रक्रिया के बीच हाई कोर्ट के स्टे के बावजूद होटल मालिक ने पुरानी इमारत के बाद एक और बहुमंजिला इमारत तान दी थी.

10 साल बाद आया फैसला

करीब 10 साल की कानूनी प्रक्रिया के बाद हाई कोर्ट की डबल बेंच ने इन दोनों इमारतों को तोड़ने का आदेश जारी किया. इसके बावजूद  उज्जैन नगर निगम ने  कार्रवाई में देरी की. माना जा रहा है कि  यह लेटलतीफी होटल मालिक को फायदा पहुंचाने के लिए की गई थी. जिससे वह हाई कोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे सके. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने भी हाई कोर्ट के आदेश को भी यथावत रखा और होटल ना तोड़े जाने की याचिका को रद्द कर दिया!

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :