CAA प्रदर्शनों के चलते बोले CJI बोबडे : यूनिवर्सिटी सिर्फ ईंट-गारे की इमारतें नहीं INDvsAUS/ स्मिथ-विलियमसन के वीडियो देख की मिडिल ऑर्डर में खेलने की तैयारी: राहुल के एल राहुल ने राहुल द्रविड़ जैसे महान खिलाड़ी के साथ तुलना पर कही ये बात निर्भया गैंगरेप केस: दोषी पवन अपराध के समय नाबालिक थे या नहीं SC सुनवाई 20 को विद्यार्थी स्वयं खड़ा करें अपना उद्यम, बनें सफल उद्यमी MP में खुद की सरकार के खिलाफ के विधायक धरने पर बैठे रोहित शर्मा की इंजरी पर बोले कप्तान कोहली वीर सावरकर को लेकर बयानबाजियों के लिए बोले राऊत : अंडमान जेल भेज दो, तब उनके बलिदान का एहसास होगा ज्ञान ज्योति शिक्षा महाविद्यालय ने स्वामी विवेकानन्द की 157वी जयन्ती मनाई मैं राहुल को चुनौती देता हूँ कि CAA पर 10 लाइनें बोलके दिखाये : जे पी नड़ड़ा मध्य प्रदेश: पुलिस ने लिखवाया निबंध,बिना हेलमेट और सीट बेल्ट के पकड़े गए कानपुर से गिफ़्तार किया गया 1993 ब्लास्ट का दोषी कुख्यात आतंकी जलीस अंसारी निर्भया गैंगरेप केस: सभी दोषियों के खिला जारी हुआ नया डैथ वारंट 1 फरवरी को होगी फांसी दिल्ली विधानसभा के लिए 57 वाली भाजपा की पहली लिस्ट जारी चुनाव लड़ने से पहली गिरा आप का पहला विकेट, फर्जी डिग्री मामले मे जितेंद्र सिंह तोमर का निर्वाचन रद्द नई दिल्ली सीट से केजरीवाल के खिलाफ चुनाव नहीं लड़ेंगी निर्भया की माँ आशा देवी CAA के विरोध मे RTI डाल मांगा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भारतीय नागरिक होने का मांगा सबूत सीसोदिया पैदल ही पहुचे नामांकन भरने, गाड़ी नहीं है साथ ही आमदनी भी घटी दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले कॉंग्रेस की एक नई घोषणा दिल्ली में केजरीवाल तो जंगपुरा में मारवाह के नारे ने बिगाड़ी चुनावी तस्वीर , भाजपा ने अब  खोला पत्ता पर कांग्रेस का भरोसा मारवाह पर ही माना जा रहा तय 

केजरी सरकार पर फिर से बरसे रिंकिया के पापा, बोले 892 करोड़ के काम में लगाए 2000 करोड़

हम एक घोटाले का खुलासा कर रहे हैं, जिसमें दिल्ली के सीएम और डिप्टी सीएम शामिल हैं। एक आरटीआई में सामने आया है कि स्कूलों में कमरों के निर्माण के लिए 2000 करोड़ अतिरिक्त दिए गए, जबकि यह निर्माण 892 करोड़ रुपए में हो सकता था।

Deepak Chauhan 01-07-2019 15:34:52



भाजपा नेता मनोज तिवारी ने सोमवार को दिल्ली के स्कूलों में हुए निर्माण कार्यों में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया इसमें शामिल हैं।

तिवारी ने कहा- हम एक घोटाले का खुलासा कर रहे हैं, जिसमें दिल्ली के सीएम और डिप्टी सीएम शामिल हैं। एक आरटीआई में सामने आया है कि स्कूलों में कमरों के निर्माण के लिए 2000 करोड़ अतिरिक्त दिए गए, जबकि यह निर्माण 892 करोड़ रुपए में हो सकता था। 34 कॉन्ट्रैक्टरों को यह काम सौंपा गया, जिसमें केजरी और सिसोदिया के रिश्तेदार भी शामिल हैं।


यह टैक्स का दुरुपयोग: तिवारी

तिवारी ने कहा- आज घर खरीदने पर भी 1500 रुपए स्क्वायर फीट का भाव लगता है। मगर केजरीवाल सरकार 8800 रुपए स्क्वायर फीट में यह कमरे बनवा रही है। यह दिल्ली की जनता के टैक्स का दुरूपयोग है। अच्छे से अच्छे होटल का कमरा भी 5 हजार रुपए स्क्वायर फीट से ज्यादा का नहीं बनता, लेकिन दिल्ली सरकार इसके लिए इतना पैसा दे रही है।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :