भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या जल्द बनेंगे पापा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के लिए 40 हजार से अधिक बुलेट प्रूफ जैकेट की मंजूरी दिल्ली सरकार की गरीबी पर केजरीवाल पर तंज़ कसते कुमार विश्वास दिल्ली में टूटा कोरोना रिकॉर्ड आज मिले 1295 नए मरीज, 20 हजार के करीब पहुंचा आंकड़ा अल्ट्राटेक सीमेंट वर्क्स डाला के सौजन्य से मजदूरों को वितरित किया गया राशन किट कोरोना चपेट में आये उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज आकाशीय बिजली के चपेट में आने से एक युवक जख्मी लॉकडाउन 5.0 के अनलॉक 1 मे कुछ यूं होगी उत्तर प्रदेश में निर्देश 30 जून तक हुआ बिहार का लॉकडाउन कोरोना के चलते दिल्ली सरकार की दिख रही गरीबाई, केंद्र से कर रही मदद की गुहार अब 10 की बजाए 11 संख्या का हो सकता है आपका मोबाइल नंबर अखिलेश हो या योगी सरकार वनकर्मी और वन माफिया है सब पर भारी मन की बात: योग और आयुर्वेद, हॉलिवुड से हरिद्वार तक कोरोना संकट मे योग को गंभीरता से ले रहे लोग लॉकडाउन-5: 8 जून से धार्मिक स्थल और शॉपिंग मॉल खुलेंगे स्कूल-कॉलेज को जुलाई मे खोलने पर विचार, मेट्रो भी हो सकती है शुरू उसके बाद 1 जून से 'लॉकडाउन' अनलॉक, दूसरे राज्यों से आने जाने में नहीं होगी दिक्कत कुछ इस प्रकार का होगा लॉकडाउन 5.0 का रंग रूप लॉकडाउन 5.0 की घोषणा, कंटेनमेंट जोन को छोड़ सभी चीजों को खोलने की इजाजत नज़मा आपी ने उड़ाया चीन का मज़ाक, टिकटोक ने उड़ा दी विडियो मॉस्को जाने वाले विमान के पायलट को था कोरोना पता चलते ही आधे मे ही लौटा विमान

अब देहरादून निवासी घर बैठे कराएं वाहन की प्रदूषण जांच

Khushboo Diwakar 17-09-2019 14:39:25



  • देहरादून निवासी को प्रदूषण जांच केंद्रों पर नहीं करना होगा इंतजार
  • वाहनों में प्रदूषण चेकिंग के लिए मोबाइल वैन पहुंचेगी घर-घर

नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद वाहनों में प्रदूषण चेकिंग को लेकर मारा-मारी मची हुई है. उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में लोग सुबह से कतार में लगकर वाहनों में प्रदूषण की जांच करा रहे हैं. हालांकि, अब देहरादून निवासी को प्रदूषण जांच केंद्रों पर घंटों इंतजार नहीं करना होगा. क्योंकि परिवहन विभाग ने प्रदूषण जांच के लिए मोबाइल वैन संचालित करने की मंजूरी देनी शुरू कर दी है.

इस तरह आप घर बैठे कॉल कर अपने वाहन का प्रदूषण जांच करवा सकते हैं. देहरादून में यह पहला प्रदूषण जांच मोबाइल वैन बालावाला निवासी पंकज ने परिवहन विभाग की मंजूरी से शुरू किया है. पंकज कॉल मिलने पर घर-घर जाकर वाहन चेकिंग के बाद पॉल्यूशन सर्टिफिकेट इश्यू कर रहे हैं.

मालूम हो कि देहरादून में प्रदूषण जांच केंद्रों पर सैकड़ों गाड़ियों की लंबी कतारें दिखाई दे रही हैं. परेशानी ये है कि वाहनों की संख्या बेहद ज्यादा है और प्रदूषण जांच केंद्रों की संख्या सीमित है. हालांकि, अब प्रदूषण जांच मोबाइल वैन शुरू होने से लोगों को सुविधा मिलेगी.

गौरतलब है कि राजधानी देहरादून में अब तक 19 प्रदूषण जांच केंद्र हैं, जबकि देहरादून जिले में 28 प्रदूषण जांच केंद्र को परिवहन विभाग ने स्वीकृति दी है. इस लिहाज से देखा जाए तो जिले में करीब 10 लाख वाहनों के प्रदूषण जांच का जिम्मा इन्हीं सीमित केंद्रों के ऊपर है. हालांकि, अब प्रदूषण जांच के लिए मोबाइल वैन को स्वीकृति मिलने के बाद लोगों को उनके घर पर ही सुविधा मिल सकेगी.


Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :