आइए जानते हैं हंसने से क्या फायदे होते हैं FATF के डार्क ग्रे लिस्ट में जाएगा पाकिस्तान, क्या होगा हाल महाराष्ट्र में लग सकता है राष्ट्रपति शासन,शिवसेना को भारी पड़ा 50 -50 का फार्मूला अमेरिका : ऋतिक के फैन होने पर पति ने की पत्नी की हत्या खुद भीं लगाई फांसी वीडियो में लड़ाई करते दिखे अक्षयकुमार और रोहितशेट्टी ऑस्ट्रेलिया क्रिकेटर्स एसोसिएशन के प्रमुख बने शने वॉटसन दिल्ली एनसीआर में हवा बेहद खराब,नोएडा AQI 700 के पार पहुँचा महाराष्ट्र: एनसीपी कहा अभी तक नहीं मिला कांग्रेस का जवाब जुआयरियों-सट्टेबाज़ों को पाल रहा है, उत्तरप्रदेश का पुलिस प्रशाशन आयुष्मान की बाला ने चार दिन में की 52करोड़ की कमाई पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या में दोषी करार एजी पेरारिवलन को मिली पेरोल क्या आप जानते है गुरुनानक जयंती के बारे में ? गुजरात में आवारा पशुओं की जानकारी देने पर की हत्या दहेज के चक्कर में पति ने किया पत्नी का कतल महाराष्ट्र में शव सेना के समर्थन को लेकर सोनिया गाँधी के घर पर बैठक गांदरबल में मुठभेड़ के दौरान, एक आतंकी ढेर, एक सुरक्षाबल घायल सरकार बनाने के लिए कांग्रेस का यह फार्मूला 3000% तक बड़े JNU हास्टल चार्ज पर मचा बड़ा बवाल 3दिन में आयुष्मान खुराना की बाला ने 43.95 कमाई की अनुष्का , विराट की भूटान यात्रा में सामने आये नए दोस्त

कर्नाटक में राजनीति का सियासी खेल

प्रसाद लाड लंबे समय तक एनसीपी में थे, लेकिन चार साल पहले ही बीजेपी ज्वाइन किया है. सूत्रों की माने तो कुमारस्वामी ने प्रसाद लाड से संपर्क करने की कोशिश की है. इसके लिए लाड को यह संदेश भेजा गया कि मुख्यमंत्री कुमारस्वामी बात करना चाहते हैं. हालांकि यह बात

kunika katiyar 12-07-2019 16:17:30



बीजेपी महासचिव मुरलीधर राव ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के करीबी और पर्यटन मंत्री आर महेश से एक गेस्ट हाउस में मुलाकात की. हालांकि जब मामला सामने आया, तो मुरलीधर राव ने सफाई दी. उन्होंने कहा कि जेडीएस के मंत्री आर महेश से किसी तरह की चर्चा किए जाने की बात में कोई सच्चाई नहीं है.

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस और बीजेपी के बीच शाह और मात का खेल चल रहा है. कांग्रेस-जेडीएस के 16 विधायकों के बगावत के बाद कुमारस्वामी सरकार पर संकट के बादल छाए हुए हैं, लेकिन कांग्रेस के दिग्गज बागियों को मनाने की हरसंभव कोशिश भी जारी है. इसके बाद भी बागी विधायक अपने इस्तीफे पर अड़े हुए हैं. यह मामला देश के सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच चुका है.

इन सब के बीच पहले बीजेपी और जेडीएस के दो दिग्गज नेताओं के बीच मुलाकात और अब सीएम कुमारस्वामी का महाराष्ट्र के बीजेपी नेता प्रसाद लाड से संपर्क साधने की कोशिश ने सियासी गलियारों में एक नई चर्चा शुरू हो गई है. ऐसे में सवाल उठने लगा है कि क्या कर्नाटक में पर्दे के पीछे कोई दूसरा खेल चल रहा है?

कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायक मुंबई में डेरा जमाए हुए हैं. इन बागियों पर महाराष्ट्र बीजेपी के नेता प्रसाद लाड नजर रख रहे हैं ताकि कांग्रेस नेता उन्हें समझाकर अपने खेमे में वापस न मिला सकें. लाड वह शख्स हैं, जो कांग्रेस के संकटमोचक माने जाने वाले डीके शिवकुमार और बागी विधायकों के बीच ढाल बनकर मुंबई होटल के बाहर खड़े थे. इसी के चलते शिवकुमार चाहकर भी बागी विधायकों से मिल नहीं सके.कुमारस्वामी और पीएम नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो-PTI)

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :