सुशांत केस:-सूरज पंचोली, बोले- बेहतर होगा मैं इस मामले में कुछ ना बोलूं लंबी उम्र की ख्वाहिश होगी जल्द पूरी राजाराम के जयकारे के साथ भूमि पूजन प्रारंभ अयोध्या में मंदिर निर्माण से शेख रशीद ने कहा - भारत बन गया 'राम नगर' सुशांत सिंह राजपूत केस की CBI करेगी जांच प्रशांत भूषण को सुप्रीम कोर्ट की नसीहत भारतीय अर्थव्यवस्था का बुरा दौर बीता मुंबई की जूलरी कंपनी ने SBI को लगाया 387 करोड़ रुपए का चूना माइक्रोसॉफ्ट के लिए सदी की सबसे बड़ी डील होगी टिकटॉक देखें कैसे राम मंदिर भूमि पूजन से पहले तैयार है अयोध्या नगरी यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2019 का फाइनल रिजल्ट जारी राजस्थान सियासी संकट: क्या सच में कांग्रेस हाईकमान से बागी विधायकों ने लगाई गुहार- किसी तीसरे को बना दो CM सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुख्यमंत्री नीतीश ने की सीबीआई जांच की सिफारिश घरेलू रसोई गैस हुई महंगी आज का राशिफल भारत से बिगड़े रिश्ते का चालाकी से फायदा उठा रहा चीन गोल्ड बॉन्ड में निवेश है फायदे का सौदा जांबाज एयर फोर्स ऑफिसर के रोल में दिखीं जाह्नवी कपूर नया कानून-अब नहीं चलेगा बाइक या स्कूटर पर लोकल हेलमेट देना होगा चालान सुशांत सिंह राजपूत की बहन ने पीएम नरेंद्र मोदी से लगाई मदद की गुहार

टाइम मैगज़ीन ने PM मोदी की फोटो के नीचे लिखा- INDIA's DIVIDER IN CHIEF

Khushboo Diwakar 10-05-2019 18:00:16




नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के अंतिम दो पड़ाव के पहले अंतरराष्ट्रीय पत्रिका टाइम ने अपने कवर पेज में मोदी को प्रकाशित किया है। कवर पेज में टाइम मोदी की फोटो के नीचे लिखता है- 'INDIA's DIVIDER IN CHIEF' जिसका मतलब होता है- भारत को बांटने वाला प्रमुख व्यक्ति... पत्रकार आतिश तसीर ने इस कवर स्टोरी को जारी किया है। बता दें कि टाइम पत्रिका का यह संस्करण 20 मई के दिन जारी किया जाएगा।
इस पत्रिका में गुजरात से निकले मुख्यमंत्री जो मौजूदा समय में देश के प्रधानमंत्री हैं का जिक्र करते हुए लिखा गया है कि वह कैसे पिछले 30 साल में सबसे ज्यादा बहुमत के साथ सत्ता में आएं। इसी के साथ पत्रिका में पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी का भी उल्लेख किया गया है। टाइम पत्रिका के एशिया संस्करण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीते 5 साल के कार्यकाल की कड़ी आलोचना की गई है। जिसका शीषर्क है- "Can the World's Largest Democracy Endure Another Five Years of a Modi Government?" जिसका मतलब है कि क्या दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र मोदी सरकार के पांच साल और सहन कर पाएगा। 

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :