महाराष्ट्र बवाल : शिवसेना-NCP-कांग्रेस के बीच सबकुछ ठीक नहीं? : राहुल गांधी LAC पर चीन की हरकत देख PM मोदी की NSA अजीत डोभाल और CDS बिपिन रावत के साथ बैठक श्रमिक ट्रेन को लेकर उद्धव सरकार के सवालों के जवाब में भड़का रेल मंत्रालय 6 महोने मे भारत शुरू कर सकता है कोविड-19 वैक्सीन का मानव परीक्षण कोरोना काल में शिक्षा का माध्यम बन रहा इंटरनेट-सेठ एम आर जयपुरिया स्कूल रॉबर्ट्सगंज केरल के मुख्यमंत्री के गृहनगर को घोषित किया गया कोरोना हॉटस्पॉट पुलिस बलों में एक बार फिर अपराध दर बढ़ने को लेकर चिंता भारतीय सैनिकों पर लाठी-कंटीले तारों वाले डंडे और पत्थर का किया इस्तेमाल कर चीनी सैनिकों ने दिखाई नीचता सरकार पर हमला , कहा : पूरी तरह फेल हो गया लॉकडाउन : राहुल गांधी WHO की नई चेतावनी बनी सिर दर्द, कहा जहां मरीज ठीक है वहाँ बाद सकती है और संख्या योग्य विद्यार्थियों के लिए प्रोजेक्ट मैनेजमेंट में है सुनहरा भविष्य लॉकडाउन तोड़ने वाली बात पर बयान देते मनोज तिवारी BSF ने बांग्लादेश का कराया मुंह मीठा करा पाकिस्तान को नहीं दी ईद की मिठाई कोरोना : दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर को फिर से किया गया सील पाताल लोक पर सामने आया नया विवाद अनुष्का शर्मा के खिलाफ भाजपा MLA की शिकायत कोरोना के चलते ही अपने नागरिकों को भारत से निकालेगा चीन दिल्ली में मिल रहे सरकारी ई पास के फर्जी मामले क्या कोरोना को पता है उसे फ्लाइट में संक्रमण नहीं फैलाना? : SC अमेरिका ने 33 चाइनीज कंपनियों और संस्थाओं को ट्रेड ब्लैकलिस्ट कोरोना राहत : दिल्ली के आधे से ज्यादा कोरोना रेड जोन बने ओरेंग जोन

धज्जिया उड़ाता आई आई एम् का चेयरमैन

13-05-2019 15:27:42



लोकल न्यूज़ ऑफ़ इंडिया

दिल्ली।  मोदी सरकार में वैसे तो कई कारनामे हुए जिनके कारण सरकार की किरकिरी हुई चाहे वो माल्या हो या नीरव मोदी पर भ्रष्ट अफसरशाही तय नियमो को टाक पर रखकर क्या क्या फैसले ले सकती है इसका जीता जागता सबूत है उत्तराखंड का यह आई आई एम् और उसका चेयरमैन जो की त्रिवेणी इंडस्ट्रीस का सर्वे सर्वा भी है और पैसे और अपने रसूक्ष की वजह से आज भी घोटालो का पुलिंदा बनाने पर तुला हुआ है इस आई आई एम् को।  बिल्डिंग से लेकर फैकल्टी या डायरेक्टर रिक्रूटमेंट सब कुछ अपने मन मुताबिक़ चलाने वाला यह व्यक्ति जिसकी आयु सीमा आई आई एम् की तय सीमा को धता बताते हुए कबकी पूरी हो चुकी है जिसकी जांच पड़ताल इसके अपने आकड़े ही बताते है जो  करने पर मिल जायेगे।  अब तो हद इस बात की है कि यह अपने गुर्गो को डायरेक्टर बनाकर अब तक के अपने काले कारनामो को दफन कर सकेगा।  आज तक आयी हुई सारी जाँच एजेंसियो ने पैसे ले देकर खानापूर्ति की पर इस चेयरमैन की अपनी पैसे की ताकत के आगे सब फ़ैल है।
यहाँ पर हो रही गड़बड़ियों को जिसने भी उजागर करने की ठानी उसको इसने ठिकाने लगा दिया और आज उनमे से कुछ कोर्ट के चक्कर काट रहे है। इस मामले के बारे में जब चेयरमैन से बात करने के लिए आईआईएम काशीपुर के नंबर 7900444090 पर दिल किया गया तो रिंग टोन के अलावा उसको ऑपरेटर भी अटेंड करने वाला नामौजूद दिखा  इस बात से भी अंदाजा लगाया जा सकता है की जिसका मुखिया ही भ्र्ष्ट हो वो संस्थान क्या करेगा ?

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :