करिश्माई पकड़ और संगठन को जोड़ना जानते है बृजमोहन अग्रवाल चीन के सिंगापुर मे भी आया कोरोना साथ ही बड़ी कोंडोम की बिक्री कर्नाटक मुख्यमंत्री कार्यालय घेरने पहुचे कोंग्रेसी अध्यक्ष समेत हुये गिरफ्तार PM मोदी को लेकर आपत्तिजनक बयान देने के आरोप में शशि थरूर पर दिल्ली हाई कोर्ट का जुर्माना श्री राम के नारे पर भड़क अखिलेश बोले भाजपा से है जान का खतरा वेलेंटाइन डे पर प्यार का इज़हार करना पड़ा महंगा, चोर कह कर गाँव वालों ने पीटा केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह के लिए पीएम मोदी को न्योता संस्कृति विवि के 14 और छात्रों को मिली नौकरी निर्भया केस की सुनवाई के बाद बेहोश हुई SC की जज 40 जवानों के घर जाकर मिट्टी को लगाया माथे पर, उमेश जाधव ने दी पुलवामा के शहीदों को दी सबसे सच्ची श्रद्धांजलि कश्मीर में होंगे पंचायत चुनाव दिल्ली विधानसभा चुनाव : जो जनता करती है, सही करती है - प्रियंका गांधी दिल्ली चुनाव के बाद केजरीवाल की जीत पर कांग्रेस नेता शत्रुध्न सिन्हा ने उन्हे बताया सुपर लीडर संस्कृति विश्वविद्यालय में मनाया गया यूनानी दिवस हरियाणा मे क्या भाजपा गैर जाट प्रदेश अध्यक्ष के साथ नही कर सकती दो या तीन उपाध्यक्षो का प्रयोग दिल्ली विधासभा मे आप की 9 मे से 8 महिला बनी विधायक झटका : अब इस रेट पर मिलेगी गैर सब्सिडी वाली LPG, 149 रुपये तक बढ़ गए घरेलू गैस सिलेंडर CBI Vs CBI: सुप्रीम कोर्ट के जज ने अखिकारियों लगाई फटकार कहा मेन खिलाड़ी अब भी क्यों आजाद? रामलीला मैदान में अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी को लेंगे दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ दिल्ली चुनाव में हार पीएम मोदी की नहीं, अमित शाह की विफलता है : शिव सेना

मिठाई के डब्बे की वजह से पकडे गए तिवारी के हत्यारे

उत्तर प्रदेश पुलिस ने हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले को 24 घंटे के भीतर ही सुलझा लेने का दावा किया है।

Abhayraj Singh Tanwar 19-10-2019 16:54:26



उत्तर प्रदेश पुलिस ने हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी हत्याकांड मामले को 24 घंटे के भीतर ही सुलझा लेने का दावा किया है। इस मामले में उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि घटनास्थल पर मिठाई का डिब्बा बरामद हुआ था और वही अहम सुराग बना।

हिन्दू समाज पार्टी के नेता कमलेश तिवारी की गला रेतकर शुक्रवार लखनऊ में हत्या कर दी गई. हमलावर मिठाई के डिब्बे में हथियार लेकर आए थे। भगवा कपड़े पहने हमलावर मिठाई के डिब्बे में चाकू, कट्टा लेकर खुर्शीद बाग इलाके में स्थित तिवारी के दफ्तर में आए थे।

उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि मिठाई का डिब्बा इस केस में सबसे अहम सुराग था। इसी मिठाई के डिब्बे को आधार बनाते हुए पुलिस की टीमें गठित की गई और जांच उत्तर प्रदेश से होते हुए गुजरात तक जा पहुंची. दरअसल, मिठाई का डिब्बा सूरत जिले की एक दुकान से जुड़ा था।

इस मामले में गुजरात में मौजूद उस मिठाई की दुकान के आस-पास के सीसीटीवी फुटेज की छानबीन से संदिग्ध फैजान यूनुस की पहचान की गई। फैजान नाम के शख्स ने मिठाई खरीदी थी. यूपी डीजीपी के मुताबिक रशीद पठान नाम का शख्स इस हत्याकांड का मुख्य आरोपी है। यूपी पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने शनिवार को लखनऊ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इस मामले में अब तक तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है। ये तीनों इस हत्याकांड में शामिल रहे हैं. इनके नाम रशीद अहमद पठान, मौलाना मोहसिन शेख और फैजान है।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :