घरेलू रसोई गैस हुई महंगी आज का राशिफल भारत से बिगड़े रिश्ते का चालाकी से फायदा उठा रहा चीन गोल्ड बॉन्ड में निवेश है फायदे का सौदा जांबाज एयर फोर्स ऑफिसर के रोल में दिखीं जाह्नवी कपूर नया कानून-अब नहीं चलेगा बाइक या स्कूटर पर लोकल हेलमेट देना होगा चालान सुशांत सिंह राजपूत की बहन ने पीएम नरेंद्र मोदी से लगाई मदद की गुहार बिहार कोरोना और बाढ़ से प्रभावित, अभी न कराएं चुनाव: NDA में सहयोगी LJP ने EC को लिखा पत्र शकुंतला देवीः वो महिला जो कंप्यूटर और कैलकुलेटर्स की स्पीड को देती थी मात हाई ब्लड प्रेशर से रहते हैं परेशान तो डाइट में शामिल करें साबुत मूंग पंजाब के तीन जिलों में जहरीली शराब पीने से 30 लोगों की मौत विराट कोहली के खिलाफ मद्रास हाई कोर्ट में दर्ज हुआ केस अयोध्या :श्रीराम मंदिर भूमि पूजन से पहले आइसोलेशन, पांच जोन में बांटी गई राम नगरी अनलॉक-3 : एलजी ने दिल्ली में होटल और साप्ताहिक बाजार खोलने के केजरीवाल सरकार के फैसलों पर लगाई रोक सुशांत मामले में लग रहे आरोपों पर रिया चक्रवर्ती ने तोड़ी चुप्पी दिल्ली में 8 रुपये प्रति लीटर सस्ता हुआ डीजल सुशांत सुसाइड केस:सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा- मुझे क्यों लगता है कि सुशांत की हत्या हुई है आज का राशिफल राहुल का PM पर हमला - देश को बर्बाद कर रहे हैं मोदी नई शिक्षा नीति 2020 : स्कूल एजुकेशन, बोर्ड एग्जाम

सरकार बनाने के लिए कांग्रेस का यह फार्मूला

महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस के बीच माथापच्ची जारी है.शिवसेना के साथ गठबंधन को लेकर कांग्रेस ने एक फॉर्मूला तैयार किया है.

sakshi sharma 11-11-2019 16:02:00



  • महाराष्ट्र के बड़े नेताओं के साथ बैठक करेंगी सोनिया
  • सत्ता के बंटवारे को लेकर असमंजस, तैयार किया फॉर्मूला

महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस के बीच माथापच्ची जारी है. फिलहाल कांग्रेस उलझन में है. इसी उलझन को दूर करने के लिए कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने महाराष्ट्र के नेताओं की अहम बैठक बुलाई है. इस बैठक में शिवसेना के साथ गठबंधन की एवज में अपने फॉर्मूले पर कांग्रेस विचार कर सकती है.

सूत्रों के मुताबिक, कांग्रेस के सामने सबसे ज्यादा असमंजस की स्थिति है. अगर गठबंधन होता है तो वह सबसे छोटी पार्टी होगी. ऐसे में वह अपने बड़े नेताओं को कैसे मैनेज कर पाएगी. इसके लिए कांग्रेस ने एक फॉर्मूला तैयार किया है. इस फॉर्मूले के तहते सभी को बराबर मंत्री पद मिले. यानी सभी पार्टी के 14 मंत्री हों.

दो डिप्टी सीएम के फॉर्मूले पर भी विचार

हालांकि, कांग्रेस उत्तर प्रदेश के फॉर्मूले पर भी विचार कर रही है. मुख्यमंत्री का पद शिवसेना के कोटे में जाएगा तो दो डिप्टी सीएम बनेंगे. एक कांग्रेस का और एक एनसीपी का. हालांकि, माना जा रहा है कि कांग्रेस डिप्टी सीएम की जगह स्पीकर पद भी दावा ठोंक सकती है. कांग्रेस का मानना है कि उसे सत्ता में कम हिस्सेदारी न मिले, इसलिए फैसला नाप-तौल कर लिया जाएगा.

उद्धव ठाकरे से मिले शरद पवार

कांग्रेस की असमंजस के बीच एनसीपी चीफ शरद पवार ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात की. इस दौरान एनसीपी नेता अजित पवार और शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे व संजय राउत भी मौजूद रहे. माना जा रहा है कि एनसीपी और शिवसेना के बीच सत्ता के बंटवारे पर चर्चा हुई. हालांकि, अभी दोनों पार्टियों को कांग्रेस के रुख का इंतजार है.

शिवसेना कोटे के मंत्री ने दिया इस्तीफा

शिवसेना ने एनसीपी की शर्त को मानते हुए केंद्र से अपना समर्थन वापस ले लिया है. शिवसेना कोटे से मोदी कैबिनेट में भारी उद्योग मंत्री अरविंद सावंत ने इस्तीफा दे दिया. इस्तीफा देने के बाद दिल्ली में सावंत ने बीजेपी पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया. एनडीए से शिवसेना के बाहर होने पर सावंत ने कहा कि मेरे त्यागपत्र का मतलब समझ सकते हैं.


Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :