यूनिवर्सिटी से 93 की उम्र में मास्टर डिग्री ले सबसे उम्रदराज छात्र बने सीबीएसई स्कूलों के बच्चों ने ‘नो बैग डे’ को बताया ‘राइट चॉइस’ अब राम जी जुड़े स्थलों की यात्रा कराएगी 'श्री राम एक्सप्रेस' सोनभद्र मे मिला सोने का पहाड़ महिला टी-20 वर्ल्ड कप LIVE : भारत ने डिफेंडिंग चैम्पियन ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से हराया, पूनम यादव ने 4 विकेट लिए शिव और विज्ञान : वैज्ञानिक ने तांडव को परमाणु की उत्पत्ति से जोड़ा, स्विट्जरलैंड के यूरोपियन रिसर्च सेंटर में नटराज की भारतीय रेलवे का अनोखा प्रयास : दंड लगाओ और फ्री टिकट पाओ राम मंदिर : ऊंचाई बढ़ाने और एक मंजिल जोड़ने का प्रस्ताव तेज प्रताव यादव का नारा - 2020 में किसका वध होगा, भीड़ बोली- 'नीतीश का' ICC WT20 WC 2020 : पाकिस्तानी महिला क्रिकेट टीम के डांस वीडियो पर फैन्स भड़के निर्भया केस : फांसी से बचने के लिए दोषी विनय की और एक नई तिकड़म गुलशन कुमार की हत्या की जानकार थी मुंबई पुलिस : पूर्व कमिश्नर मारिया नृपेंद्र मिश्रा होंगे निर्माण समिति के चेयरमैन, राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष बने नृत्यगोपाल दास जम्मू/कश्मीर पंचायती उपचुनाव : जम्मू- कश्मीर में 'All is not well' - PDP डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा पर बोली काँग्रेस वो भगवान राम हैं जो 70 लाख लोग स्वागत करेंगे छपाक को लेकर फिर से इमोशनल हुई दीपिका पादुकोण वाराणसी के रिक्शा चालक मंगल खेवट से भेंट कर उनकी बेटी की शादी का लिया न्यौता पाकिस्तान को लगा एक और बड़ा झटका, 'ग्रे लिस्ट' में बने रहने देने की सिफारिश करिश्माई पकड़ और संगठन को जोड़ना जानते है बृजमोहन अग्रवाल चीन के सिंगापुर मे भी आया कोरोना साथ ही बड़ी कोंडोम की बिक्री

राम मंदिर पर फैसले से पहले उत्तरप्रदेश में बड़ाई गई सुरक्षा

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह और चीफ सेक्रेट्री राजेंद्र तिवारी को तलब किया है। रंजन गोगोई दोनों अफसरों से आज दिन में मिलेंगे। माना जा रहा है कि अयोध्या पर संभावित फैसले से पहले की तैयारियों को लेकर यह मुलाकात

Abhayraj Singh Tanwar 08-11-2019 10:52:29



सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह और चीफ सेक्रेट्री राजेंद्र तिवारी को तलब किया है।  रंजन गोगोई दोनों अफसरों से आज दिन में मिलेंगे।  माना जा रहा है कि अयोध्या पर संभावित फैसले से पहले की तैयारियों को लेकर यह मुलाकात हो सकती है। 

अयोध्या विवाद पर फैसले को लेकर योगी सरकार से लेकर पूरा प्रशासनिक अमला हाई अलर्ट पर आ चुका है।  इस कड़ी सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिलों के जिलाधिकारियों और पुलिस अधीक्षकों साथ सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की। 

वहीं, केंद्रीय गृह मंत्रालय से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, अयोध्या के फैसले को देखते हुए सभी राज्यों को एडवाइजरी जारी की गई है।  सभी राज्यों को फैसले को लेकर अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं।  सूत्रों के मुताबिक अतिरिक्त सुरक्षा के लिए गृह मंत्रालय अर्धसैनिक बलों की 40 कंपनियां भेज रहा है।  इन 40 कंपनियों में 4000 पैरा मिलिट्री फोर्स के जवान शामिल होंगे। 

उत्तर प्रदेश पुलिस ने बरेली जोन में 6 हजार से ज्यादा ऐसे लोगों को चिन्हित किया है जो फैसले के बाद उपद्रव कर सकते हैं।  ऐसे शरारती तत्वों को रेड कार्ड जारी किया गया है, यानी उन पर पुलिस की सख्त नजर रहेगी। बरेली जोन के शहर शाहजहापुर, बदायूं, पीलीभीत, रामपुर, मुरादाबाद, संभल, अमरोहा और बिजनौर में 4 हजार से अधिक ऐसे लोग चिन्हित किए गए हैं, ये वो लोग हैं जो बवाल करवा सकते हैं।  इसके अलावा 90 ऐसे स्थान चिन्हित किये गए है जो संवेदनशील हैं। 

अयोध्या पर फैसले से पहले अंबेडकर नगर के अलग-अलग कॉलेजों में 8 अस्थाई जेल बनाई गई है।  प्रशासन ने ऐसा फैसला सुरक्षा के मद्देनजर लिया है। अयोध्या में पहले से हाई अलर्ट है और जगह-जगह जवानों की तैनाती की गई है।  प्रशासन हर परिस्थिति से निपटने के लिए सुरक्षात्मक मोड में हैं।  संवेदनशील मामला होने की वजह से एहतियातन ऐसा किया गया है। 

अयोध्या मामले में फैसले से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार बेहद सजग है।  इस बाबत प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को कैबिनेट बैठक की और मंत्रियों को सलाह दी कि उकसाने वाली बयानबाजी नहीं होनी चाहिए।  मोदी ने मंत्रिपरिषद की बैठक में कहा कि अयोध्या मामले पर बेवजह बयानबाजी नहीं होनी चाहिए।  साथ ही पीएम मोदी ने अयोध्या विवाद पर आने वाले फैसले को लेकर देश में शांति और सौहार्द्र बनाए रखने में सहयोग करने की अपील की। 

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :