सचिन पायलट ने कांग्रेस विधायक को भेजा लीगल नोटिस, मांगा एक रुपये का हर्जाना

हरियाणा में बिल के खिलाफ सड़कों पर उतरे किसानों ने लगाया जाम भारत ने चीनी सीमा पर 6 नई पहाड़ियों पर किया कब्जा बिल आने से किसानों की इनकम होगी डबल या हो जाएंगे बर्बाद बिल से नाराज विपक्ष उपसभापति के खिलाफ लाया अविश्वास प्रस्ताव कृषि बिल के विरोध में संसद परिसर में धरने पर बैठी विपक्ष IPL 2020: दिल्ली और पंजाब में आज होगी कांटे की टक्कर विपक्ष के विरोध-हंगामे के बीच नारेबाजी से किसान बिल पास किसानों को पूंजीपतियों का ‘गुलाम' बना रही सरकार- राहुल गांधी कृषि बिल पर राज्यसभा में पक्ष-विपक्ष आमने सामने विपक्षी इसको हरायें, यही किसान चाहता है- केजरीवाल क्या अफवाह पर ही एक मंत्री ने दे दिया इस्तीफा- संजय राउत राज्यसभा में किसान बिल के पास होने का ये है गणित दुनिया भर में अब तक इतने करोड़ लोग हो चुके है संक्रमित कृषि बिल पर चर्चा के दौरान राज्यसभा में हंगामा बिहार में AIMIM और समाजवादी जनता दल डेमोक्रेटिक के बीच गठबंधन तय: असदुद्दीन ओवैसी 4,130 रुपये सस्ता हुआ सोना,चांदी में आई 10,379 रुपये की गिरावट क्या कोरोना के चलते अभी भी अस्पतालों में ऐसा हो रहा है राज्यसभा में कल पेश होगा कृषि सुधार विधेयक ड्रग्स को लेकर बोले अनुराग कश्यप बिहार में मौत का दूसरा सबसे बड़ा कारण है डायरिया

सचिन पायलट ने कांग्रेस विधायक को भेजा लीगल नोटिस, मांगा एक रुपये का हर्जाना

Deepak Chauhan 22-07-2020 18:19:44

सचिन पायलट ने अपने ऊपर भाजपा में जाने के लिए पैसों की पेशकश करने के आरोप लगाने वाले कांग्रेस के विधायक गिर्राज सिंह को लीगल नोटिस भेजा है और एक रुपये का हर्जाना मांगा है। आपको बता दें कि कांग्रेस विधायक मलिंगा ने सोमवार (20 जुलाई) को आरोप लगाया था कि तत्कालीन उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने उनसे पार्टी छोड़कर भाजपा में जाने के बारे में चर्चा की थी और इसके लिए धन की पेशकश भी की थी। 

सचिन पायलट ने अपने वकील के जरिए कांग्रेस विधायक गिर्राज सिंह को लीगल नोटिस में 'झूठे और तुच्छ आरोप' लगाने के लिए 7 दिनों के अंदर 1 रुपये की राशि और प्रेस के सामने लिखित माफी की मांग की है।

कांग्रेस विधायक के आरोपों को पायलट ने 'आधारहीन व अफसोसजनक' बताते हुए खारिज कर दिया था और कहा था कि विधायक से यह बयान दिलवाया गया है और वह उनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करेंगे।


पायलट प्रकरण से कांग्रेस प्रभावित नहीं होगी : बघेल

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया के बाहर जाने और सचिन पायलट की बगावत का कांग्रेस पर असर नहीं होगा। इसके साथ ही उन्होंने भाजपा पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि अब केंद्र की सत्तारूढ़ पार्टी की कोई नैतिकता एवं चरित्र नहीं रहा और वह सत्ता के लिए कुछ भी कर सकती है। बघेल का कहना था कि पायलट सिर्फ 26 साल की उम्र में सांसद बने, बाद में केंद्रीय मंत्री और राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष बने। इससे ज्यादा एक पार्टी और क्या दे सकती है?

उन्होंने राजस्थान की सियासी उठापठक के संदर्भ में यह टिप्पणी की। पायलट और 18 अन्य विधायकों की बगावत के बाद वहां सियासी बवंडर खड़ा हुआ है। बघेल ने आरोप लगाया, ''भाजपा सत्ता की भूखी है और वह इसके लिए किसी भी हद तक जा सकती है। जहां उनके एक या दो विधायक हैं, उन्होंने उस राज्य में भी सरकार बना ली। अटल और आडवाणी का युग खत्म हो चुका है। अब कोई नैतिकता और चरित्र नहीं बचा है।

किसी का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि अवसरवादियों और ब्लैकमेल करने की राजनीति करने वालों को यह याद रखना चाहिए कि यह देश के लोकतंत्र के लिए ठीक नहीं है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंधिया के साथ भी कुछ तो मजबूरी रही होगी, यू हीं कोई बेवफा नहीं होता। यह पूछे जाने पर कि क्या युवा नेताओं के पार्टी छोड़ने अथवा बगावत करने के बारे में कांग्रेस को चिंतन करना चाहिए, इस पर बघेल ने मजाक भरे लहजे में कहा, ''हम भी नौजवान नेता हैं। हम बूढ़े नहीं हुए हैं।

  • |

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :