देश के इंजीनियरों को दिया चैलेंजदेश के इंजीनियरों को दिया मेड इन इंडिया ऐप का चैलेंज शराब के नशे में चूर पुलिस कर्मी ने एक महिला को अपनी कार से रौंद कानपुर एनकाउंटर से पहले विकास दुबे से SO विनय तिवारी ने की थी बात दक्षिण चीन सागर में युद्धपोतों का अभ्यास, चीन से निपटने को तैयार अमेरिका सीएम योगी का ऐलान शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों को एक-एक करोड़ भारत और अमेरिका की दोस्ती को देखकर चीन को 'जलन' 4.5 की तीव्रता से हिली दिल्ली-एनसीआर में धरती पीएम नरेंद्र मोदी के लेह दौरे से चिढ़ा चीन लेह पहुंचे पीएम :- आपका मुकाबला कोई नहीं कर सकता : पीएम मोदी यूजीसी की नई गाइडलाइंस जारी होने के बाद स्पष्ट होंगी फाइल ईयर की परीक्षाएं अचानक लेह पहुंच गए प्रधानमंत्री मोदी कोरोना संक्रमितों की संख्या 92 हजार के पार, अबतक 63 हजार हुए ठीक तेज प्रताप की साली करिश्मा राय को तेजस्वी ने ज्वाइन कराई RJD 33 लड़ाकू विमानों को खरीदने के प्रस्ताव को मंजूरी शिवराज सिंह चौहान के मंत्रिमंडल में शामिल हुए 28 मंत्री दिल्ली-एनसीआर से कोरोना के खात्मे पर अमित शाह तीनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों संग करेंगे बैठक हमारे 20 जवानों ने बलिदान दिया तो चीन में यह संख्या दोगुनी : रविशंकर प्रसाद दिल्ली में शुरू होगा देश का पहला प्लाज्मा बैंक दिल्ली में कंटेनमेंट जोन की संख्या हुई 417 दिल्ली के लोगों को डरने की कोई जरूरत नहीं, दिल्ली में नहीं कम्युनिटी स्प्रेड : अमित शाह

दिल्ली हिंसा को लेकर विपक्ष ने करी शाह के इस्तीफे की मांग

आजाद ने कहा कि यदि तीन दिनों तक केंद्र सरकार सोई न रहती तो हिंसा नहीं होती। इसके अलावा संसद परिसर में कांग्रेस नेता राहुल गांधी, अधीर रंजन चौधरी समेत कई कांग्रेसी नेताओं ने दिल्ली हिंसा पर विरोध-प्रदर्शन करते हुए गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग की

Deepak Chauhan 02-03-2020 18:46:03



संसद में बजट सत्र के दूसरे चरण की शुरुआत सोमवार को हुई। दिल्ली हिंसा को लेकर कांग्रेस समेत विपक्षी दलों ने संसद परिसर में विरोध-प्रदर्शन किया। राज्यसभा में कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने सरकार पर हिंसा के दौरान तीन दिनों तक सोते रहने का आरोप लगाया। आजाद ने कहा कि यदि तीन दिनों तक केंद्र सरकार सोई न रहती तो हिंसा नहीं होती। इसके अलावा संसद परिसर में कांग्रेस नेता राहुल गांधी, अधीर रंजन चौधरी समेत कई कांग्रेसी नेताओं ने दिल्ली हिंसा पर विरोध-प्रदर्शन करते हुए गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग की।

वहीं, बजट सत्र के दूसरे चरण में सरकार कई अहम विधेयक पेश करेगी। इनमें सहायक प्रजनन तकनीक नियमन विधेयक, मेडिकल टर्मिनेशन ऑफ प्रेग्नेंसी विधेयक और सरोगेसी विनियमन विधेयक 2020 विधेयक शामिल हैं। सरोगेसी विधेयक 2020 को पेश करने के लिए सरकार संसद में लंबित सरोगेसी विधेयक 2019 को वापस लेगी। इसके साथ सरकार बजट सत्र के पहले चरण में पेश किए गए एक दर्जन से अधिक विधेयकों को पारित कराने की कोशिश करेगी। उसका आम बजट पर अधिक से अधिक मंत्रालयों पर चर्चा कराने का भी प्रयास होगा।

[removed]


पढ़ें, Budget Session Live Updates: 

- बजट सत्र के दौरान दिल्ली हिंसा को लेकर विपक्ष के हंगामे के चलते लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही मंगलवार 11 बजे तक स्थगित

- लोकसभा में संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि जिन लोगों ने 1984 में 3000 लोगों के मारे जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की, वो लोग आज यहां हंगामा कर रहे हैं। मैं इस रवैये की कड़ी निंदा करता हूं।

- दिल्ली हिंसा को लेकर लोकसभा और राज्यसभा में विपक्ष ने हंगामा किया। विपक्ष अमित शाह के इस्तीफे की मांग कर रहा है।

- दिल्ली हिंसा को लेकर राज्यसभा में विपक्ष ने हंगामा किया। इसके चलते राज्यसभा दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई।

- दिल्ली हिंसा पर राज्यसभा में हंगामा हुआ। वेंकैया नायडू ने कहा कि मैं चाहता हूं कि हम सब लोग एक स्वर से बोले सामान्य स्थिति लाई जाए। इसपर गुलाम नबी आजाद ने कहा कि तीन दिन और तीन रात केंद्र सरकार सोई नहीं होती तो ऐसा नहीं होता।

- कांग्रेस सांसद राहुल गांधी, शशि थरूर और अधीर रंजन चौधरी ने दिल्ली हिंसा को लेकर संसद परिसर में प्रदर्शन किया। कांग्रेस ने गृह मंत्री अमित शाह से इस्तीफे की मांग की है।

- बिहार के वाल्मीकि नगर से जद(यू) सांसद बैद्यनाथ प्रसाद महतो के निधन को लेकर लोकसभा दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित।

- दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल संसद में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलने के लिए पहुंचे।

- संसद में बजट सत्र के दूसरे चरण के लिए कांग्रेस नेता राहुल गांधी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह संसद सत्र पहुंचे।

- कांग्रेस ने लोकसभा में दिल्ली हिंसा को लेकर स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है।

- संसद परिसर में आम आदमी पार्टी ने गांधी प्रतिमा के सामने दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर विरोध प्रदर्शन किया।

- कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी और के सुरेश ने लोकसभा में दिल्ली हिंसा के मामले में स्थगन प्रस्ताव दिया।

-संसद में लंबित विघेयकों में आयुर्वेद शिक्षण एवं अनुसंधान संस्थान विधेयक, डायरेक्ट टैक्स से जुड़े विवाद को लेकर विवाद से विश्वास विधेयक, संस्कृत विश्वविद्यालय विधेयक प्रमुख हैं। इसके साथ ही सरकार को मिनरल कानून संशोधन अध्यादेश को कानून में बदलने के लिए भी विधेयक पेश करना होगा। 

- सरकार की कोशिश होगी कि इस विधेयक को संसद के मौजूदा सत्र में ही पारित कराया जाए। उसे आर्थिक सुधारों को लेकर भी कई अहम विधेयक पारित कराने हैं। इनमें  भारतीय रिजर्व बैंक संशोधन विधेयक और कंपनी कानून संशोधन विधेयक शामिल हैं।

- अधीर रंजन ने सरकार पर दिल्ली में कानून-व्यवस्था बनाए रखने में पूरी तरह से विफल होने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि हिंसा की वजह से पूरी दुनिया में भारत की छवि को नुकसान हुआ है। यह हम सभी के लिए चिंता का विषय है। 

[removed]

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :