केजरीवाल और सिसोदिया को करना चाहिए हिंसा प्रभावित इलाकों का दौरा : दिल्ली HC दिल्ली हिंसा पर बोले पीएम मोदी : जल्द से जल्द हो शांति बहाल कपिल मिश्रा का वीडियो चलवा दिल्ली हिंसा पर हाईकोर्ट के जजों ने की सुनवाई अफवाहों पर ध्यान न दें लोग, दिल्ली मौजपुर हिंसा में अब तक 11 FIR दर्ज : दिल्ली पुलिस दिल्ली हिंसा पर बोले ट्रंप : भारत का अपना मामला इससे खुद ही निपटे दिल्ली हिंसा में 130 से ज्यादा अस्पताल में भर्ती, 9 की मौत दिल्ली के उत्तर पूर्वी जिले में जारी हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है अभी तक 15 से लोगो को लगी गोली बीजिंग की हवा में बड़ा सुधार, भारत मे सबसे ज्यादा प्रदूषित शहर : रिपोर्ट स्वाइन फ्लू की चपेट में सुप्रीम कोर्ट के 6 न्यायाधीश, मास्क पहनकर कोर्ट पहुंचे जस्टिस संजीव खन्ना LIVE : केजरीवाल भी पहुंचे गृह मंत्रालय, दिल्ली हिंसा पर हाईलेवल मीटिंग शुरू CAA : कई मेट्रो स्टेशन बंद, उत्तर-पूर्वी दिल्ली हिंसा में हेड कॉन्स्टेबल की मौत पत्नी संग आगरा ताज महल पहुंचे ट्रंप कहा वाह ताज साबरमती आश्रम पहुच विजिटर बुक मे ट्रंप ने लिखा 'थैंक्यू फ्रेंड मोदी' अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत की धरती पर रखा कदम ट्रम्प का भारत दौरा / मेलानिया दिल्ली के स्कूल में बच्चों से मिलेंगी, कार्यक्रम से केजरीवाल और सिसोदिया का नाम हटा भारत अमेरिका को व्यापार मे पाहुचा रहा है बड़ी चोट : डोनाल्ड ट्रम्प वायरल वीडियो में देखें उसका दर्द, नौ साल का बच्चा क्यों मरना चाहता है यूनिवर्सिटी से 93 की उम्र में मास्टर डिग्री ले सबसे उम्रदराज छात्र बने सीबीएसई स्कूलों के बच्चों ने ‘नो बैग डे’ को बताया ‘राइट चॉइस’ अब राम जी जुड़े स्थलों की यात्रा कराएगी 'श्री राम एक्सप्रेस'

पुराना कांगड़ा जग सुंदरी माता मंदिर की जमीन पर एक निजी कंपनी द्वारा मोबाइल टावर निर्माण कार्य शुरू करने पर विवाद

स्थानीय लोगों का आरोप है कि मोबाइल की एक निजी कंपनी मंदिर की भूमि पर ही मोबाइल टावर का कार्य शुरू कर दिया है जबकि इसके लिए ना तो मंदिर की भुमि के संचालकों से बात की गई और ना ही नगर परिषद कांगड़ा व वन विभाग से मंजूरी ली गई।

Anupaul 25-01-2020 11:19:26



कांगड़ा, 24 जनवरी,(रितेश ग्रोवर):कांगड़ा के पुराना कांगड़ा के वार्ड 1 में बिना अनुमति ही वन विभाग की भूमि पर एक नीजि कंपनी द्वारा लगाये जा रहे मोबाइल टावर के निर्माण को लेकर स्थानीय लोग लामबंद हो गये है। स्थानीय  लोगों का आरोप है कि मोबाइल की एक निजी कंपनी मंदिर की भूमि पर ही मोबाइल टावर का कार्य शुरू कर दिया है जबकि इसके लिए ना तो मंदिर की भुमि के संचालकों से बात की गई और ना ही नगर परिषद कांगड़ा व वन विभाग से मंजूरी ली गई।

बताया जा रहा है कि वन विभाग कांगड़ा की टीम ने शुक्रवार को मोबाइल टावर खड़ा कर रहे लोगों को कार्य बंद करने का भी फरमान सुनाया परन्तु लोगों में इस बात का रोष है कि मोबाइल टावर का निर्माण कर रहे लोगों ने कैसे बिना अनुमति से ही मंदिर की भूमि पर ही निर्माण कार्य के तहत कई मीटर लंबा गड्ढा कर दिया और इसमें सरिया व सीमेंट भी डाल दिया। स्थानीय लोगों के विरोध के चलते कांगड़ा प्रशासन जागा व वन विभाग के पास शिकायत पहुंचते ही वन अधिकारी मौके पर पहुंचे और कार्य का रूकवाया।

स्थानीय निवासी अनिल कुमार ने बताया कि पुराना कांगड़ा की पहाड़ी पर स्थित जग संदूरी माता की जमीन पर पिछले कुछ दिनों से मोबाइल आवर के निर्माण का कार्य चल रहा था और इस बाबत पता किया तो मोबाइल टावर का कार्य जग सुंदरी माता की जमीन पर हो रहा था। उन्होने बताया कि जग संदुरी माता की जमीन जिलाधीश कांगड़ा द्वारा मंदिर को स्थानातरित की गई है और ऐसे में मोबाइल टावर लगा रही कंपनी ने कैसे बिना अनुमति के मोबाइल टावर का कार्य शुरू कर दिया।

उन्होने बताया कि इस संबंध में शुक्रवार को कांगड़ा उपमंडलाधिकारी से स्थानीय लोग मिलने भी गये परंतु वह कार्यलय में नही मिलने से उन्हे शिकायत नही दी जा सकी है। वही वन विभाग के  खंड अधिकारी अशोक कुमार का कहना था कि स्थानीय लोगों की शिकायत पर वह जग संदुरी माता की जमीन पर गये तो वहां मोबाइल टावर के निर्माण का कार्य चल रहा था और उनसे मोबाइल टावर निर्माण के अनुमति कागज मांगे गये तो वह दिखा नही पाये जिस पर उन्होने कार्य पर बंद करने के निर्देश दे दिये है।

स्थानीय लोगों ने चेताया है कि मोबाइल टावर का निर्माण मंदिर व वन भूमि पर किसकी अनुमति से शुरू हुआ इसकी जांच हो और उपयुक्त कानूनी कार्रवाही अमल में लाई जाए अन्यथा स्थानीय लोगों को विरोध का रास्ता अपनाना पडेगा।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :