उपहार सिनेमा के बाद एक बार फिर झुलसी दिल्ली, 43 की मौत 629 लड़कियां चीन को बेच ऑर नीचे गिरा पाकिस्तान संस्कृति विवि में तीन दिवसीय एंटरप्रिन्योरशिप प्रोग्राम में बोले अतिथि Bigg Boss 13: घर से बेघर होने के बाद देवोलीना ने खोला रश्मि का राज़ कर्नाटक में उपचुनाव के लिए वोटिंग जारी प्रियंका चोपड़ा को मानवतावादी पुरस्कार मिलने पर पति निक जोंस ने जताई ख़ुशी वर्ल्डकप : टीम इंडिया में केवल एक तेज़ गेंदबाज की जगह खाली कटरीना के वर्कआउट से उड़े सबके होश महंगे प्याज को लेके होगी अमित शाह की बैठक Baaghi 3 Shooting : टाइगर की शर्टलेस शूटिंग पर माँ का इमोशनल पोस्ट पी चिदंबरम ने किया अर्थव्यवस्था को लेकर मोदी सरकार पर हमला कुछ इस तरह रहा पानीपत मूवी का रिव्यू एशिया के सेक्सिएस्ट मैन बने रितिक रोशन Unnao Case : पीड़ित को दिल्ली लाने की तैयारी शुरू कोसी के सैंट टेरेसा मिशनरी स्कूल का रंगारंग वार्षिक समारोह संपन्न इंडियन आइडल में अनु मलिक की जगह ली हमेशा रेशमिया ने विंदू दारा : घर बिगबॉस का नहीं रश्मि देसाई का लग रहा है BB13: शो के अंदर रश्मि की लवस्टोरी दिखी मजबूत कोंकणा सेन के जन्मदिन पर उनकी जिंदगी से जुडी कुछ बाते शाहरुख़ खान की दसवीं फिल्म भी होगी बुरी ?

बागपत: छपरौली के एक गांव में मजदूर की ईटों से पीट-पीट कर हत्या

बागपत में अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहे, उत्तर प्रदेश में योगी सरकार भी भयमुक्त प्रदेश बनाने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रही है । पुलिस प्रशासन को भी सख्त निर्देश दे, रखे हैं ,लेकिन हर रोज कोई न कोई बडी घटना सामने आ रही है

Jyotsana Yadav 16-09-2019 14:53:04



संवाददाता/ओमदत्त शर्मा,बागपत


 छपरौली... छपरौली के गांव शबगा में दिन निकलते ही गमगीन माहौल हो गया । ग्रामवासी खेतों की तरफ दौड़ते नजर आये, मामला छपरौली के शबगा गांव का है, जहां पर सुबह किसान रामचंद्र हर रोज की तरह अपने खेत पर कार्य करने के लिए गया । ट्यूबवेल के पास गन्ने के खेत में खेत मालिक रामचंद्र ने शव पड़ा देखा ,खेत मालिक ने घबराते हुए ,ग्रामीणों को अपने खेत में शव पड़े होने की  सूचना दी ,ग्रामीणों ने पहुंचकर खेत में पड़े शव को देखा, ग्रामीणों द्वारा थाना छपरौली पुलिस को सूचना दी ,सूचना मिलते ही थाना अध्यक्ष छपरोली रणधीर सिंह मैं मयफोर्स के साथ घटनास्थल  पर पहुंचे । शव को कब्जे में ले लिया । शव के पास पडी कई ईटों को भी  अपने कब्जे में लिया ,  पुलिस ने बताया कि उसके माथे में सर में चोट के निशान दिख रहे हैं, पुलिस पहली धृष्टता में ईंटों से पीटकर  हत्या होना मान कर चल रही है ,पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से शव की पहचान कराई ग्राम वासियों ने कृष्ण पुत्र गण पृथ्वी सिंह, उम्र लगभग 50 वर्ष, गांव शबगा के रूप में पहचान की ,पुलिस ने पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। स्थानीय पुलिस ने डॉग एस्कॉर्ट को भी घटनास्थल पर बुलाया और जांच शुरू की, 

ग्राम वासियों ने बताया कि मृतक कृष्ण अविवाहित था  जिसकी उम्र लगभग 50 वर्ष  है  वह  अपनी बुजुर्ग मां के साथ गांव में रहता था ,जो छोटा-मोटा बिजली का कार्य व खेतों की मजदूरी करता था । मृतक कृष्ण का एक भाई बिजेंदर जो अपने बच्चों सहित हरियाणा के गांव बहालगढ़ में रहता है ,वह भी कभी-कभी गांव में आता है ,अपनी बुजुर्ग मां का ख्याल मृतक कृष्ण ही रखता था । ग्राम वासियों ने अपना नाम न बताते हुए बताया कि कुछ महीनों पहले भी कृष्ण के साथ घर पर ही कुछ गांव के लड़कों द्वारा हमला किया गया था जिसमें कृष्ण घायल हो गया था जिसकी सूचना पुलिस को नहीं दी गई थी कुछ ग्राम वासियों ने ही समझा-बुझाकर मामला शांत करा दिया था ग्राम वासियों ने बताया कि कृष्ण सीधा साधा व्यक्ति था अपनी मजदूरी करता और अपनी मां की सेवा भी करता था घर मे माँ बेटा ही रहते थे और कोई नहीं,

 बुजुर्ग मां का दर्द...

घर पर मृतक  की बुजुर्ग मां का रो-रो कर बहुत बुरा हाल है, रोते-रोते कह रही है कि किसी ने मेरा बुढ़ापे का सहारा छीन लिया, मेरा लाल कहां गया ,,किसी ने मेरे साथ बहुत बुरा किया, कृष्ण ने किसी का क्या बिगाड़ा था । हे भगवान उसके बदले में मेरी जान ले लेता हे भगवान किसी के साथ ऐसा मत करना ,एक मां को रोता देख व उसका दर्द सुनकर के आँखे नम हो रही थी। ग्राम की कुछ महिलाएं बुजुर्ग महिला का डांस बता रही थी लेकिन बुजुर्ग माँ अपने बेटे की खबर सुनते ही बुरी तरह टूट चुकी है ।

बागपत में अपराध का बढ़ता ग्राफ.....

बागपत में अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहे, उत्तर प्रदेश में योगी सरकार भी  भयमुक्त  प्रदेश बनाने के लिए  एड़ी चोटी का जोर लगा रही है । पुलिस प्रशासन को भी  सख्त निर्देश दे, रखे हैं ,लेकिन हर रोज कोई न कोई बडी घटना सामने आ रही है पुलिस प्रशासन भी दिन रात मेहनत करके अपराधों पर अंकुश लगाने मे लगी हुई है लेकिन बागपत जिले में अपराध का ग्राफ बढ़ रहा है आपको बताते चलें कि सप्ताह भर में ही बलात्कार, आत्महत्या ,मर्डर, बैंक डकैती, जैसी कई बड़ी घटनाएं हो चुकी हैं । पुलिस प्रशासन अपनी पूरी ताकत के साथ अपराधियों को लगाम व  धरपकड़ के लिए रात दिन  इधर-उधर दौड़ लगा  रही है ,मगर सफलता नहीं मिल रही, कई घटनाएं पुलिस के लिए सिरदर्द बनी हुई है

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :