सीतारमण-भारत से ज्यादा पाक की मदद करते हैं राहुल गाँधी

सोना हुआ सस्ता,चांदी में बड़ी गिरावट बॉलीवुड और ड्रग्स का रिश्ता आज का नहीं ये तो पुराना है coronavirus-केस और मृत्यु दर में गिरावट देश में अबतक 90 हजार संक्रमितों की हुई मौत बारिश के चलते रिया-शोविक की बेल पर सुनवाई टली ड्रग्स मामला: NCB रडार पर दीया मिर्जा, को पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा नये कृषि विधेयक : हक मार, हक दिलाने का दावा देश में पिछले 24 घंटों में एक लाख से ज्यादा लोग हुए ठीक IPL 2020: आज चेन्नई-राजस्थान का मैच IPL 2020: पहले मैच ने तोड़े BARC के सारे रिकॉर्ड बदला लो-बदल डालो- शशि यादव , राज्य अध्यक्ष, बिहार राज्य आशा कार्यकर्ता संघ जानिए एक ही दिन में कितना कम हुआ सोने-चांदी का दाम 1 घंटे के लिए लोकसभा स्थगित, राज्यसभा में कई विधेयक पारित पूर्व सांसद अतीक अहमद के आवास पर चला बुलडोजर मेट्रोपॉलिटन सिटीज से हवाई सेवाओं को जोड़े केंद्र- CM भूपेश सप्ताहभर के लिए बस-ऑटो बंद होने से रेलयात्री परेशान MP में किसानों को 10 हजार मिलेगी सम्मान निधि ड्रग्स रैकेट में बड़े सितारों का नाम पर भड़की रवीना टंडन शिक्षा विभाग की वेबसाइट हैक कर फर्जी शिक्षकों से की वसूली दुनियाभर में तीन करोड़ 12 लाख से ऊपर पहुंचा संक्रमितों का आंकडा

सीतारमण-भारत से ज्यादा पाक की मदद करते हैं राहुल गाँधी

Jyotsana Yadav 11-09-2019 11:09:53

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त करने को केंद्र का एक महत्वपूर्ण कदम बताते हुए मंगलवार को कहा कि कांग्रेस को जम्मू कश्मीर और राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मामलों पर एक स्वर में बोलना चाहिए. केंद्र की ओर से जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त किये जाने के खिलाफ पाकिस्तान द्वारा संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद को सौंपे गए ‘डोजियर' में कांग्रेस नेता राहुल गांधी और नेशनल कान्फ्रेंस नेता उमर अब्दुल्ला की टिप्पणी कथित रूप से होने के बारे में पूछे गए एक सवाल पर सीतारमण ने मीडिया से कहा कि विपक्षी दल को स्थिति का मूल्यांकन करना चाहिए.

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण इस दस्तावेज पर टिप्पणी करते हुए मुखर दिखीं. उन्होंने चेन्नई में राहुल गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उनके बयान भारत से ज्यादा पाकिस्तान की मदद करते हैं.साथ ही उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस नेतृत्व को कृपया देखना चाहिए कि देश में क्या हो रहा है और जम्मू कश्मीर और राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मामलों पर एक स्वर में बोलना चाहिए.' सीतारमण ‘सरकार द्वारा 100 दिन के दौरान उठाये गए साहसी कदमों' के बारे में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रही थीं. उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त करना केंद्र का एक महत्वपूर्ण निर्णय था जिससे अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति को आरक्षण के लाभ का मौका मिला.न्यूज एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक दस्तावेज में राहुल गांधी का हवाला देते हुए लिखा है, '20 दिनों से जम्मू-कश्मीर के लोगों की आजादी और नागरिक स्वतंत्रता पर अंकुश लगा हुआ है. जब हमने श्रीनगर जाने की कोशिश की तो देखा कि विपक्ष के नेताओं और प्रेस को क्रूर प्रशासन और कठोर बल का सामना करना पड़ रहा है.' वहीं, दस्तावेज में उमर अब्दुल्ला के हवाले से भी कहा गया, 'भारत सरकार के एकतरफा और चौंकाने वाले निर्णय के दूरगामी और खतरनाक परिणाम होंगे. यह कश्मीरियों के खिलाफ एक आक्रामकता है. निर्णय एकतरफा अवैध और असंवैधानिक है. झूठ से आगे एक लंबी और कठिन लड़ाई है और हम इसके लिए तैयार हैं.


  • |

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :