दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020/ जेडीयू ने स्टार प्रचारकों की लिस्ट हुई जारी, प्रशांत किशोर का नाम नहीं राजनैतिक तंज़ : अब मोदी सरकार के मंत्री गीता गोपीनाथ पर हमले करेंगे : चिदंबरम ऋषभ पंत को लेकर गौतम ने उठाए गंभीर सवाल कहा बतौर विकेट कीपर भी अच्छा कर रहे है राहुल शुभ मंगल ज्यादा सावधान एक ऐसी कहानी जो सामान्य रह कर ही हो सकती है हिट पेरियार को लेकर सुपरस्टार रजनीकांत की एक टिप्पणी पर विवाद कहा मैं नहीं मागूंगा माफी : राजनीकांत लखनऊ रैली / जिसको विरोध करना है करे, CAA वापस नहीं होगा : अमित शाह दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने जारी की अपनी दूसरी लिस्ट CAA Protest / लखनऊ में शायर मुनव्वर राना की बेटियों के खिलाफ मुकदमे हुये दायर गणतंत्र दिवस समारोह में बतौर विशेष अतिथि शामिल होंगे ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो आप ने बदली त्रिनगर की सीट, जितेंद्र तोमर की जगह उनकी पत्नी बनी उम्मीदवार INDvNZ: धवन को लगी चोट न्यूजीलैंड दौरे से हो सकते है बाहर बीना केबिनेट बदले सुनील यादव ही रहेंगे भाजपा की तरफ से केजरीवाल के विपक्षी उम्मीदवार मोदी संग स्कूटर पर घूमने वाले जे पी नड़ड़ा बने भाजपा अध्यक्ष आसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप 2020 मे दिखा धोनी का 'हेलिकॉप्टर शॉट' निर्भया गैंगरेप : दोषी पवन गुप्ता सुप्रीम कोर्ट से खारिज होने से फांसी तय केजरीवाल का विशाल रोड के बाद भरा नई दिल्ली विधानसभा से अपना नामांकन CAA प्रदर्शनों के चलते बोले CJI बोबडे : यूनिवर्सिटी सिर्फ ईंट-गारे की इमारतें नहीं INDvsAUS/ स्मिथ-विलियमसन के वीडियो देख की मिडिल ऑर्डर में खेलने की तैयारी: राहुल के एल राहुल ने राहुल द्रविड़ जैसे महान खिलाड़ी के साथ तुलना पर कही ये बात निर्भया गैंगरेप केस: दोषी पवन अपराध के समय नाबालिक थे या नहीं SC सुनवाई 20 को

जाने कब से ऑर क्यूँ मनाया जाता है World Human Rights Day

इस साल की थीम है 'स्टैंड अप फॉर ह्यूमन राइट्स' । इंसानी अधिकारों को पहचान देने और वजूद को अस्तित्व में लाने के लिए जारी हर लड़ाई को मानवाधिकार दिवस ताकत देता है।

Deepak Chauhan 10-12-2019 12:28:30



10 दिसम्बर को दुनियाभर में अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस यानी यूनिवर्सल हूमन राइटस डे मनाया जाता है। सबसे पहले 10 दिसंबर 1948 में पहली बार यूनाइटिड नेशन ने मानवाधिकारों को अपनाने की घोषणा की। लेकिन आधिकारिक तौर पर इस दिन की घोषणा साल 1950 में हुई।

इस साल की थीम है 'स्टैंड अप फॉर ह्यूमन राइट्स' । इंसानी अधिकारों को पहचान देने और वजूद को अस्तित्व में लाने के लिए जारी हर लड़ाई को मानवाधिकार दिवस ताकत देता है।

भारत के संविधान में मानवाधिकार की गारंटी दी गई है। भारत में शिक्षा का अधिकार इसी गारंटी के तहत है। हमारे मुल्क में 28 सितंबर, 1993 से मानवाधिकार कानून अमल में आया और सरकार ने 12 अक्टूबर को राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग का गठन किया।

मानवाधिकार दिवस मनाने का मुख्य उद्देशय लोगों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करना है। मानवाधिकार में स्वास्थ्य, आर्थिक सामाजिक, और शिक्षा का अधिकार भी शामिल हैं। मानवाधिकार वे मूलभूत अधिकार हैं जिनसे मनुष्य को नस्ल, जाति, राष्ट्रीयता, धर्म, लिंग आदि के आधार पर प्रताड़ित नहीं किया जा सकता और उन्हें देने से वंचित नहीं किया जा सकता।

राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग  के कार्यक्षेत्र में बाल विवाह,स्वास्थ्य, भोजन, बाल मजदूरी, महिला अधिकार, हिरासत और मुठभेड़ में होने वाली मौत, अल्पसंख्यकों और अनुसूचित जाति और जनजाति आदि के अधिकार आते हैं। हालांकि इसके बावजूद देश के अलग-अलग राज्यों से मानवाधिकारों के उल्लंघन की दिल दहला देनी वाली घटनाओं की खबरे आती रहती है।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :