AAP के चार विधायकों के खिलाफ FIR दर्ज आइए जानते है क्या है मामला

Truecaller जैसा ऐप लॉन्च कर सकती है गूगल राहुल गांधी ने कोरोना वैक्सीन को लेकर पीएम मोदी से पूछे सवाल रोशनी जमीन घोटाला में कांग्रेस-पीडीपी समेत NC नेता शामिल सोने की कीमतों में आया उछाल, चांदी में गिरावट दिसंबर से फिर पड़ेगा आपकी जेब पर असर बीमारियों में बैंगन खाने से करें परहेज अहमदाबाद में कर्फ्यू हटते ही आम दिनों की तरह हलचल हुई शुरू राहुल पर निशाना साधने वाले कांग्रेसी पहले आईना देखें- अधीर रंजन कोरोना काल के साथ साथ नहीं मिल रही है महंगाई में राहत ड्रग्स केस: कॉमेडियन भारती सिंह और पति हर्ष को मिली जमानत हिमाचल से भी ठंडा राजस्थान का माउंट आबू Big Boss14-घर से बेघर हुए जान ने शो के कंटेस्टेंट्स की खोली पोल मेट्रो में मास्क नहीं लगाने पर 250 रुपये देना होगा जुर्माना भारत में बन रही ऑक्सफोर्ड की कोवीशील्ड 90% तक असरदार राज्यसभा चुनाव के लिए BJP के सामने पासवान की जगह कौन Drugs case: भारती और उनके पति हर्ष को मिली मुंबई कोर्ट से जमानत ‘इंडियाज बेस्ट डांसर’ के विजेता बने अजय सिंह यूपी में शादी समारोहों में 100 लोग ही हो सकेंगे शामिल अली संग नए अपार्टमेंट में शिफ्ट हुई रिचा चड्ढा धवन के साथ दूसरा ओपनर के लिए मयंक और शुभमन रेस में

AAP के चार विधायकों के खिलाफ FIR दर्ज आइए जानते है क्या है मामला

Gauri Manjeet Singh 29-10-2020 12:57:55

नई दिल्ली,Localnewsofindia-दिल्ली में अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी के चार विधायकों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ है। दिल्ली पुलिस ने स्वच्छता कार्य के निजीकरण की योजना के विरोध में प्रदर्शन करने के मामले में आम आदमी पार्टी (आप) के चार विधायकों और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने जिन विधायकों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है, उनमें कुलदीप कुमार मोनू (कोंडली), वंदना कुमार (शालीमार बाग), अखिलेश त्रिपाठी (मॉडल टाउन) और रोहित महरोलिया (त्रिलोक पुरी) शामिल हैं। 

दरअसल, आम आदमी पार्टी के नेता दुर्गेश पाठक के साथ लगभग 1,000-1,500 लोग सिविक सेंटर के बाहर इकट्ठा हुए थे, जिन्होंने स्वच्छता कार्य के लिए निजीकरण की योजना का विरोध किया था। आरोप है कि पुलिस की बिना अनुमति के बड़ी संख्या में सफाई कर्मचारी इकट्टा हुए थे और प्रदर्शन हुआ था। 

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, इन लोगों ने बिना पुलिस की इजाजत के प्रदर्शन किया था। दिल्ली पुलिस ने कहा कि प्रदर्शन के दौरान न तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया गया और न ही लोग मास्क पहने दिखे थे। बवाल इतना बढ़ गया था कि इसमें कुछ पुलिसवाले भी घायल हुए थे। 

सफाई कर्मियों ने रास्ता जाम कर दिया था और उन्हें प्रदर्शन से हटाने के दौरान नौ पुलिसवाले जख्मी हो गए थे, जिनमें कमला मार्केट के एसीपी भी शामिल थे। पुलिस ने आईपीसी की धारा 186, 188, 353, 332, 269 और 270 और महामारी अधिनियम की धारा 3 के तहत प्राथमिकी दर्ज की है।                 

  • |

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :