अमेठी में लगे लापता वाले पोस्टर पर स्मृति ईरानी का सवाल सोनिया गांधी कितनी बार रायबरेली गईं आखिर क्यूँ बड़ा 11.50 रुपये प्रति सिलेंडर पर दाम दिल्ली में आज टूटा कोरोना मौत का रिकॉर्ड 24 घंटों मे 50 की मौत LAC लद्दाख तनाव : सीमा पर हालात को बातचीत से सुलझा सकते हैं : राजनाथ सिंह अनलॉक-1 चलते पंजाब में खोले गए सैलून, ब्यूटी पार्लर DGCA का एयरलाइंस को निर्देश में कहा बीच की सीट खाली रखें केरल में पहुंचा मानसून, 20 जून तक उत्तर प्रदेश में आने की संभावना बंद पड़े शहर मे 14.16% घट गई बिजली खपत, अनलॉक में बड़ सकती है मांग स्वास्थ्य विशेषज्ञों की सरकार से अलग है राय भाई वाजिद खान के अंतिम दर्शन के लिए पहुंचे साजिद खान लॉकडाउन-5 : एक हफ्ते के लिए बॉर्डर रहेंगी सील, के साथ अनलॉक हुई दिल्ली 'साफ बता दूं, बर्दाश्त नहीं किया जाएगा कोरोना वॉरियर्स के साथ बुरा व्यवहार' : PM मोदी भारत-चीन बॉर्डर पर तनातनी के बीच ड्रैगन बड़ाया हथियारों का जखीरा लॉकडाउन 5 में कल से चालू होगा उत्तर प्रदेश ISI के संपर्क में पाकिस्तानी उच्चायोग के दो वीजा सहायकों को दिल्ली पकड़ा भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या जल्द बनेंगे पापा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के लिए 40 हजार से अधिक बुलेट प्रूफ जैकेट की मंजूरी दिल्ली सरकार की गरीबी पर केजरीवाल पर तंज़ कसते कुमार विश्वास दिल्ली में टूटा कोरोना रिकॉर्ड आज मिले 1295 नए मरीज, 20 हजार के करीब पहुंचा आंकड़ा अल्ट्राटेक सीमेंट वर्क्स डाला के सौजन्य से मजदूरों को वितरित किया गया राशन किट

Tik-Tok ने जारी किए नए नियम

एक रिपोर्ट के मुताबिक टिक टॉक ने अपने मॉडरेटर्स को कहा था कि बदसूरत दिखने वाले लोगों के वीडियो को ऐप पर डालने से रोका जाए. इतना ही नहीं झुग्गियों में रहने वाले और गरीबों के वीडियो को भी रोकने की पॉलिसी टिक टॉक के पास थी.

Deepak Chauhan 17-03-2020 19:31:40



चीनी वीडियो ऐप Tik Tok भारत में काफी पॉपुलर है. कुछ समय के लिए भारत में इस ऐप को बैन भी किया गया था, लेकिन बाद में कंपनी ने पॉलिसी बदलने की बात मानी और फिर से इसे वापस भारत में इजाजत दी गई.

The Intercept की एक रिपोर्ट के मुताबिक टिक टॉक ने अपने मॉडरेटर्स को कहा था कि बदसूरत दिखने वाले लोगों के वीडियो को ऐप पर डालने से रोका जाए. इतना ही नहीं झुग्गियों में रहने वाले और गरीबों के वीडियो को भी रोकने की पॉलिसी टिक टॉक के पास थी.

रिपोर्ट के मुताबिक Tik Tok की भेदभावपूर्ण गाइडलाइन का कुछ हिस्सा लीक हुआ था. यहां से बात भी सामने आई है कि दिव्यांग और LGBT के पोस्ट को भी रोकने की पॉलिसी टिक टॉक के पास है.

The Intercept की रिपोर्ट में कहा गया है कि टिक टॉक ने ऐबनॉर्मल बॉडी शेप, मोटापा, अलग दिखने वाले लोग और ज्यादा रिंकल फेस वाले लोगों के वीडियोज को बैन किया जाता था.

इस रिपोर्ट में हैरान करने वाली बात ये भी है कि टिक टॉक की गाइडलाइन में यहां तक था कि गरीब दिखने वाले लोगों के वीडियो को प्लेटफॉर्म से बैन कर दिया जाए. इस लीक्ड टिक टॉक गाइडलाइन के मुताबिक घर की टूटी हुई वॉल या पुराने डेकोरेशन वाले घर में बनाए गए वीडियो को सप्रेस किया जाएगा.

अब इस रिपोर्ट के बाद टिक टॉक का बयान भी आया है. टिक टॉक के एक प्रवक्ता ने The Intercept को बताया है, 'इस तरह की पॉलिसी एक समय में टिक टॉक पर थी, लेकिन ये गाइडलाइन बुलिंग से बचाने के लिए थी, जो अब इस्तेमाल में नहीं है'

Tik Tok की तरफ से ये भी कहा गया है कि ये गाइडलाइन अमेरिकी मार्केट के लिए नहीं थे, बल्कि रिजनल थे. भारत में ऐसा है या नहीं ये साफ नहीं है. डेटा कलेक्शन और अश्लील कॉन्टेंट को लेकर टिक टॉक पहले भी सवालों के घेरे में रहा है.

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :