महाराष्ट्र बवाल : शिवसेना-NCP-कांग्रेस के बीच सबकुछ ठीक नहीं? : राहुल गांधी LAC पर चीन की हरकत देख PM मोदी की NSA अजीत डोभाल और CDS बिपिन रावत के साथ बैठक श्रमिक ट्रेन को लेकर उद्धव सरकार के सवालों के जवाब में भड़का रेल मंत्रालय 6 महोने मे भारत शुरू कर सकता है कोविड-19 वैक्सीन का मानव परीक्षण कोरोना काल में शिक्षा का माध्यम बन रहा इंटरनेट-सेठ एम आर जयपुरिया स्कूल रॉबर्ट्सगंज केरल के मुख्यमंत्री के गृहनगर को घोषित किया गया कोरोना हॉटस्पॉट पुलिस बलों में एक बार फिर अपराध दर बढ़ने को लेकर चिंता भारतीय सैनिकों पर लाठी-कंटीले तारों वाले डंडे और पत्थर का किया इस्तेमाल कर चीनी सैनिकों ने दिखाई नीचता सरकार पर हमला , कहा : पूरी तरह फेल हो गया लॉकडाउन : राहुल गांधी WHO की नई चेतावनी बनी सिर दर्द, कहा जहां मरीज ठीक है वहाँ बाद सकती है और संख्या योग्य विद्यार्थियों के लिए प्रोजेक्ट मैनेजमेंट में है सुनहरा भविष्य लॉकडाउन तोड़ने वाली बात पर बयान देते मनोज तिवारी BSF ने बांग्लादेश का कराया मुंह मीठा करा पाकिस्तान को नहीं दी ईद की मिठाई कोरोना : दिल्ली-गाजियाबाद बॉर्डर को फिर से किया गया सील पाताल लोक पर सामने आया नया विवाद अनुष्का शर्मा के खिलाफ भाजपा MLA की शिकायत कोरोना के चलते ही अपने नागरिकों को भारत से निकालेगा चीन दिल्ली में मिल रहे सरकारी ई पास के फर्जी मामले क्या कोरोना को पता है उसे फ्लाइट में संक्रमण नहीं फैलाना? : SC अमेरिका ने 33 चाइनीज कंपनियों और संस्थाओं को ट्रेड ब्लैकलिस्ट कोरोना राहत : दिल्ली के आधे से ज्यादा कोरोना रेड जोन बने ओरेंग जोन

शाहरुख़ खान की दसवीं फिल्म भी होगी बुरी ?

अब उनके फैंस के लिए एक बहुत बड़ी खबर आ रही है. वो एक नई फिल्म में काम करने वाले हैं. चलिए एक क्रिटिकल नज़र डालते हैं उनके पिछले प्रोजेक्ट्स और इस फिल्म से लगी हुई उम्मीदों पर.

Sakshi Dobriyal 03-12-2019 17:45:13



आनंद एल राय, इम्तियाज़ अली, यश चोपड़ा, रोहित शेट्टी और फरहा ख़ान. अगर इक्कीसवीं सदी के बेस्ट डायरेक्टर्स की लिस्ट बनेगी तो उसमें ये 5 नाम ज़रूर आएंगे. बेशक इन सब में से हर कोई सिर्फ बढ़िया फ़िल्में बनाने के लिए ही नहीं जाना जाता. कुछ इनमें से ऐसे हैं जो बॉलीवुड में ‘बेस्ट’ माने जाते हैं, बॉक्स ऑफ़िस का गणित समझने के चलते. कुछ ऐसे हैं जो इस लिस्ट में हैं पीआर यानी स्टार्स के साथ अच्छे कनेक्शन के चलते. जो भी हो, फिल्मों की थोड़ी-बहुत भी जानकारी रखने वाला इनमें से हर किसी डायरेक्टर को थोड़ी-बहुत जानता होगा. और इन सब में से हर एक ने कम से कम एक ब्लॉकबस्टर ज़रूर दी है.

आज हम इन सब डायरेक्टर्स की बात एक साथ कर रहे हैं, शाहरुख़ खान के चलते. जिन्होंने इन सभी डायरेक्टर्स के साथ एक-एक बुरी फिल्म देना मैनेज कर डाला है. हम हिट या फ़्लॉप कहने से बच रहे हैं, क्योंकि आजकल बॉलीवुड का रेवेन्यू मॉडल ऐसा हो गया है कि ‘हाउसफुल 4’ भी 300 करोड़ का आंकड़ा छू जाती है. (स्टोरी लिखते वक्त ‘हाउसफुल 4’ 280 करोड़ से ज़्यादा कमा चुकी है).

शाहरुख़ की पिछली 9 फिल्मों की बात करें तो कोई भी फिल्म ऐसी नहीं है, जिसने शाहरुख़ के करियर को एक ऐसा पुश दिया हो. जैसा सलमान खान के करियर को ‘दबंग’ या अक्षय के करियर को ‘नमस्ते लंडन’ जैसी मूवीज़ ने दिया. उधर सैफ़ भी ‘सेक्रेड गेम्स’ जैसे सुपरहिट ऑनलाइन कंटेट से अपनी प्रासंगिकता बनाए हुए हैं. खान ट्रिलॉजी के तीसरे एक्टर आमिर खान अपने करियर में वैसे ही बने हुए हैं जैसे आज से 10 या 15 साल पहले थे. स्लो एंड स्टेडी. उनकी अगली फिल्म ‘लाल सिंह चड्ढा’ भी धीमी आंच में पक ही रही है.  

लेकिन शाहरुख़ का वनवास है कि खत्म ही नहीं हो रहा. फिल्मों का नहीं. अच्छी फिल्मों का. ऐसी फिल्मों का जो उनके ग्राफ में वैसा उछाल ला दे जैसा ‘फेवरेबल बजट’ के बाद शेयर मार्केट में आता है. खैर, अब उनकी एक नई फिल्म की बात सुनाई दे रही है. उनके फैंस फिर से उत्साहित हैं. दसवीं बार दुआएं और प्रार्थनाएं करने लगे हैं. ‘प्लीज़ अबकी बार…’

शाहरुख़ की एक नई फिल्म को लेकर तलाश खत्म हो चुकी है. अब वो राज निदिमोरू और कृष्णा डीके द्वारा निर्देशित एक बड़े बजट की कॉमिक एक्शन-थ्रिलर में दिखाई देंगे. मुंबई मिरर ने कुछ सूत्रों के हवाले से बताया है कि–


शाहरुख़ ने एक स्टाइलिश एक्शन फिल्म साइन की है जो राज और डीके ब्रांड के अजब-गज़ब (क्विर्की) ह्यूमर से भी भरी पड़ी है. ये मूवी अगले साल फ्लोर पर जाएगी. इसे शाहरुख़ खुद प्रोड्यूस करेंगे. फिलवक्त राज और डीके इसकी स्क्रिप्ट को अंतिम रूप देने में लगे हैं. फिल्म 2021 तक रिलीज़ होगी.

राज निदिमोरू और कृष्णा डीके का लेटेस्ट प्रोजेक्ट ‘दी फैमिली मैन’, अमेज़न प्राइम पर स्ट्रीम होने वाली एक वेब सीरीज़ थी. जिसमें मनोज वाजपेयी और प्रियमणि जैसे दिग्गज कलाकार थे. सीरीज़ काफी सराही गई थी. इसके अलावा निर्देशक राज और डीके ने एक साथ मिलकर कई फ़िल्में बनाई हैं. जिनमें से ज़्यादातर क्राफ्ट, कहन और नयेपन के लिहाज़ से ‘शोर इन दी सिटी’ या ‘गो गोवा गोन’ सरीखी औसत थीं.  ‘स्त्री’ ने बेशक तारीफ़ और पैसा दोनों कमाया लेकिन इसकी इन्होंने सिर्फ स्क्रिप्ट लिखी थी.

इस फिल्म का नाम क्या है? कौन-कौन इसमें शाहरुख़ के साथ काम करेंगे? इन सब के उत्तर अभी हमें नहीं मालूम हैं. बल्कि अभी शायद कुछ डिसाइड ही नहीं हुआ है. क्यूंकि भाई! 9 औसत फिल्म दे चुकने के बाद भी उजड़ गई फिर भी दिल्ली है. या कहें दिल्ली का लौंडा है. उसकी कोई खबर उसके फैंस न जानना चाहें और पत्रकार खोज न निकालें, नॉट पॉसिबल.  तो ‘चलते-चलते’ उनके ‘फैन’ से यही कहेंगे कि ‘दिल से’ शाहरुख़ को चाहिए और उम्मीद कीजिए उनके करियर में एक ‘चमत्कार’ की. क्यूंकि हार के जीतने वाले को ही तो…





Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :