UP के कुछ हिस्सों में बरस सकते है काले मेघा

दिल्ली HC ने यातायात चालान को लेकर उठाए सवाल 1 दिसंबर से लागू होगी केंद्र सरकार की नई गाइडलाइन लक्ष्मी विलास बैंक के DBIL में विलय को कैबिनेट की मंजूरी आज का सोने चांदी का भाव भूमि पेडनेकर की दुर्गमति का ट्रेलर हुआ जारी कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए लागू हुए ये नियम बांकुड़ा रैली में ममता ने BJP पर हमला बोला महामारी-गिरता तापमान से जंग लड़ रही दिल्ली दिल्ली-NCR की हवा हुई और खराब हैदराबाद चुनाव : पूर्व केन्द्रीय मंत्री चिरंजीव ने की मुख्यमंत्री की तारीफ स्पीकर के चुनाव में नहीं काम आया RJD का विरोध कांग्रेस के संकटमोचक अहमद पटेल का निधन IND vs AUS: वनडे सीरीज से पहले ऑस्ट्रेलिया के हेड कोच जस्टिन लैंगर का बड़ा बयान जानिए 25 नवंबर का राशिफल जब तक वैक्सीन नहीं आती, तब तक नहीं खुलेंगे दिल्ली के स्कूल-मनीष सिसोदिया लालू ने जेल से ही BJP विधायक ललन पासवान को फोन किया ट्रेड यूनियनों की हड़ताल में AIBEA भी होगा शामिल केंद्र ने 43 मोबाइल ऐप पर लगाया बैन अरविंद केजरीवाल पर भड़कीं सपना चौधरी आइए जानते है वैष्णो देवी के दर्शन के लिए जाने वाली ट्रेनों की स्थिति

UP के कुछ हिस्सों में बरस सकते है काले मेघा

Deepak Chauhan 01-07-2019 17:14:50

भीषण गरमी से बेहाल प्रदेश के लोगों को मानसून की बारिश अभी पूरी तरह राहत नहीं दे पाई है। शनिवार की देर रात हुई बारिश से सुबह का मौसम थोड़ा राहत देने वाला हुआ तो दोपहर होते-होते तेज धूप के कारण उमस ने लोगों को परेशान कर दिया। वैसे सोमवार को भी प्रदेश में छिटपुट स्थानों पर बारिश होने की पूरी संभावना है। प्रदेश के कुछ स्थानों पर बारिश और आंधी तूफान की परिस्थितियां तीन जुलाई तक बनी रहेंगी। 

मौसम विभाग के अनुसार लखनऊ, फैजाबाद, गोरखपुर व आगरा मंडल में रात के तापमान में गिरावट आई है जबकि अन्य मंडलों में कोई बड़ा बदलाव नहीं आया है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में छिटपुट स्थानों पर भारी बारिश और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में छिटपुट स्थानों पर हल्की बारिश हुई है। बाराबंकी, नवाबगंज, कैसरगंज, कतर्नियाघाट, लखनऊ, पलियाकलां, मोहनलालगंज व महराजगंज में ज्यादा बारिश रिकार्ड की गई है। लखनऊ में कुछ स्थानों पर झमाझम बारिश हुई तो कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हुई। 

मानसून की सक्रियता से इस बार पू्र्वी उत्तर प्रदेश के तराई के जिलों में तेज बारिश हुई है लेकिन मध्य व पश्चिमी यूपी में अभी राहत नहीं मिल पाई है। इससे पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में धान की रोपाई तेज हो गई है। काफी दिनों तक कमजोर रहने के बाद शनिवार को मानसून फिर से सक्रिय हो गया है। मानसून आने में सामान्य तौर पर 10 दिनों की देरी हुई है। मौसम विभाग का कहना है कि कृषि के हिसाब से यह देरी बहुत ज्यादा नहीं है। अगले कुछ दिनों में हालात सुधर जाएंगे। देश में हालांकि इस बार सामान्य मानसून की बात कही गई है। शुरुआती 23 दिनों के आंकड़ों को देखें तो बारिश में दस फीसदी की कमी है। 

  • |

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :