दिल्ली दंगे वाले दिन के कई राज खुले भारत-चीन : विरोधी नहीं, दोनों देश बनें पार्टनर : चीनी राजदूत Vikas Dubey Encounter : एनकाउंटर में विकास दुबे के सीने और कमर में लगीं 4 गोलियां UP: 10 जुलाई की रात 10 बजे से 13 जुलाई सुबह पांच बजे तक राज्य में लॉकडाउन विकास दुबे हत्या के बाद मिटाना चाहता था पूरे सबूत CBSE दसवीं-बारहवीं के रिजल्ट को लेकर वायरल हो रही है ये फेक अधिसूचना पूर्वी लद्दाख की सीमा पर हालात में हो रहा सुधार कानपुर के गैंगस्टर ने क्यों चुना महाकाल का मंदिर ब्रिटेन में आज से इंडिया ग्लोबल वीक 2020 की शुरुआत देश में नहीं है कम्युनिटी ट्रांसमिशन : डॉ. हर्षवर्धन कोर्ट में पेशी के बाद गैंगस्टर विकास दुबे को रिमांड पर लेगी UP पुलिस JAC 10th Result 2020 : टॉपरों को मिलेगी कार, 2021 परीक्षा में कम होगा सिलेबस संकट के समय गरीबों के उत्थान के कार्यों में साथ देने के बजाय विपक्ष गैर जिम्मेदाराना सवाल उठा रहा: भाजपा कोरोना की उत्पत्ति का पता लगाने चीन जाएगी WHO टीम कानपुर कांड : विकास दुबे टीवी स्टूडियो में LIVE सरेंडर करेगा ? सेकुलरिज्म को नए सिलेबस से हटाने के सीबीएसई के कदम पर ममता की हैरानी कानपुर केस : विकास दुबे के मुखबिरी का है शक पर सस्पेंड एसओ विनय तिवारी गिरफ्तार केजरीवाल ने मांगी विस्तृत विश्लेषण रिपोर्ट, कोरोना मौत का आंकड़ा गिराने की पूरी तैयारी नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी की स्थायी समिति की बैठक अंतिम मिनट में स्थगित नहीं बनी कोरोना वैक्सीन तो भारत में होंगे हर दिन 2.87 लाख मामले

भारत-चीन बॉर्डर पर तनातनी के बीच ड्रैगन बड़ाया हथियारों का जखीरा

चीन के टैबलॉयड ग्लोबल टाइम्स ने सैन्य एक्सपर्ट के हवाले से बताया, 'चीनी सेना ने भारत के साथ साल 2017 में हुए डोकलाम मुद्दे के बाद टाइप 15 टैंक, जेड-20 हेलीकॉप्टर और जीजे-2 ड्रोन जैसों और हथियारों को शामिल किया। इससे ऊंचाई वाले इलाकों में होने वाले युद्ध य

Deepak Chauhan 01-06-2020 11:51:14



भारत-चीन की सीमा पर जारी तनातनी के बीच एक मीडिया रिपोर्ट से चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने वर्ष 2017 के डोकलाम गतिरोध के बाद से ऊंचाई वाले क्षेत्रों में हथियारों की संख्या में बढ़ोतरी की है।

चीन के टैबलॉयड ग्लोबल टाइम्स ने सैन्य एक्सपर्ट के हवाले से बताया, 'चीनी सेना ने भारत के साथ साल 2017 में हुए डोकलाम मुद्दे के बाद टाइप 15 टैंक, जेड-20 हेलीकॉप्टर और जीजे-2 ड्रोन जैसों और हथियारों को शामिल किया। इससे ऊंचाई वाले इलाकों में होने वाले युद्ध या फिर टकराव की स्थिति में फायदा उठाया जा सके।' इन नए हथियारों की सूची की जानकारी उस समय सामने आई है जब चीन और भारत के बीच सीमा पर तनातनी चल रही है।

पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ चार जगहों पर दोनों देशों के सैनिक आमने-सामने हैं। वहीं, पिछले महीने सिक्किम के नाकू ला में सीमा सैनिकों का एक और दल के बीच भिड़ंत हुई थी।

स्थानीय सैन्य कमांडरों के बीच कई दौर की वार्ता पैंगोंग त्सो के पास 5-6 मई को गश्ती दल के बीच हिंसक टकराव के साथ शुरू हुए गतिरोध को समाप्त करने में विफल रही। इसमें दोनों पक्षों के सैनिक घायल हुए थे। चीन की मीडिया ने वर्तमान गतिरोध को 2017 के डोकलाम वाले मुद्दे से भी ज्यादा खराब बताया है। डोकलाम में भारत और चीन के बीच गतिरोध 73 दिनों तक चला था।

ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट में इस बात की जानकारी नहीं दी गई है कि क्या नए टैंक और हेलीकॉप्टर सीमा पर तैनात किए गए हैं या नहीं। रिपोर्ट में कहा गया है कि टाइप 15 टैंक और पीसीएल-181 हॉवित्जर दोनों ही एडवांस टैंक हैं। जनवरी में सैन्य अभ्यास के दौरान दक्षिण-पश्चिम चीन के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र के उच्च-ऊंचाई वाले पठारी क्षेत्र में प्रदर्शित किए गए थे।

वहीं, 2018 के एयर शो में चीनी वायुसेना ने जीजे -2 सशस्त्र टोही ड्रोन से पर्दा उठाया था। यह पिछले जीजे -1 की तुलना में अधिक पेलोड ले जा सकता है। रिपोर्टों में कहा गया है कि इसका उपयोग तिब्बत जैसे उच्च ऊंचाई वाले क्षेत्रों में लंबी सीमा पर गश्त करने के लिए किया जा सकता है। विश्लेषकों का कहना है कि विशेष रूप से डिजाइन किए गए हथियारों ने ऊंचाई वाले क्षेत्रों में चीनी सेना की लड़ाकू क्षमताओं को बढ़ाया है।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :