सुशांत केस:-सूरज पंचोली, बोले- बेहतर होगा मैं इस मामले में कुछ ना बोलूं लंबी उम्र की ख्वाहिश होगी जल्द पूरी राजाराम के जयकारे के साथ भूमि पूजन प्रारंभ अयोध्या में मंदिर निर्माण से शेख रशीद ने कहा - भारत बन गया 'राम नगर' सुशांत सिंह राजपूत केस की CBI करेगी जांच प्रशांत भूषण को सुप्रीम कोर्ट की नसीहत भारतीय अर्थव्यवस्था का बुरा दौर बीता मुंबई की जूलरी कंपनी ने SBI को लगाया 387 करोड़ रुपए का चूना माइक्रोसॉफ्ट के लिए सदी की सबसे बड़ी डील होगी टिकटॉक देखें कैसे राम मंदिर भूमि पूजन से पहले तैयार है अयोध्या नगरी यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2019 का फाइनल रिजल्ट जारी राजस्थान सियासी संकट: क्या सच में कांग्रेस हाईकमान से बागी विधायकों ने लगाई गुहार- किसी तीसरे को बना दो CM सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में मुख्यमंत्री नीतीश ने की सीबीआई जांच की सिफारिश घरेलू रसोई गैस हुई महंगी आज का राशिफल भारत से बिगड़े रिश्ते का चालाकी से फायदा उठा रहा चीन गोल्ड बॉन्ड में निवेश है फायदे का सौदा जांबाज एयर फोर्स ऑफिसर के रोल में दिखीं जाह्नवी कपूर नया कानून-अब नहीं चलेगा बाइक या स्कूटर पर लोकल हेलमेट देना होगा चालान सुशांत सिंह राजपूत की बहन ने पीएम नरेंद्र मोदी से लगाई मदद की गुहार

पीएम नरेंद्र मोदी के लेह दौरे से चिढ़ा चीन

चीन विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने नियमित प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी के दौरे को लेकर पूछे जाने पर कहा, ''सैन्य और कूटनीतिक स्तर पर बातचीत के जरिए भारत और चीन तापमान को घटाने की कोशिश कर रहे हैं।

Deepak Chauhan 03-07-2020 18:07:28



तनाव के बीच पीएम नरेंद्र मोदी के लेह दौरे से चीन चिढ़ गया है। भारत के तेवर देखकर अब चीन बातचीत और कूटनीति की दलीलें दे रहा है। शुक्रवार को चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत और चीन के बीच बातचीत चल रही है। तनाव घटाने के लिए सैन्य और कूटनीतिक स्तर पर बातचीत हो रही है। ऐसे में किसी पक्ष को हालात बिगाड़ने वाले कदम नहीं उठाने चाहिए।

चीन विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने नियमित प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम मोदी के दौरे को लेकर पूछे जाने पर कहा, ''सैन्य और कूटनीतिक स्तर पर बातचीत के जरिए भारत और चीन तापमान को घटाने की कोशिश कर रहे हैं। किसी पक्ष को ऐसा कदम नहीं उठाना चाहिए जिससे स्थिति बिगड़ेग।''

पूर्वी लद्दाख में भारतीय एवं चीनी सैनिकों के बीच हिंसक झड़प के कुछ ही दिनों बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को अचानक लेह पहुंचे। यहां उन्होंने थलसेना, वायुसेना और आईटीबीपी के जवानों से बातचीत की। मोदी प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत के साथ सुबह करीब साढ़े 9 बजे लेह पहुंचे।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री निमू में एक अग्रिम स्थल पर गए। वहां उन्होंने थलसेना, वायुसेना और आईटीबीपी के कर्मियों से बातचीत की। उन्होंने बताया कि सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने प्रधानमंत्री को सीमा की स्थिति से अवगत कराया।

सिंधु नदी के तट पर 11,000 फुट की ऊंचाई पर स्थित निमू सबसे दुर्गम स्थानों में से एक है। यह जंस्कार पर्वत श्रृंखला से घिरा हुआ है। मोदी ने रविवार को आकाशवाणी पर मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात के जरिए देश को संबोधित करते हुए कहा था कि भारत ने लद्दाख में अपनी भूमि पर आंख उठाकर देखने वालों को करारा जवाब दिया है।     

उन्होंने यह भी कहा था कि भारत मित्रता की भावना का सम्मान करता है लेकिन यदि कोई उसकी भूमि पर आंख उठाकर देखता है तो वह इसका उचित जवाब देने में भी सक्षम है। गलवान घाटी में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के साथ हिंसक झड़प में शहीद हुए 20 जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा था कि भारत के वीर सपूतों ने दिखा दिया कि वे कभी भी मां भारती के गौरव को आंच नहीं आने देंगे।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :