गलवान घाटी का जिक्र कर बोले अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ

आदित्य नारायण करेंगे 1 दिसंबर को गर्लफ्रेंड श्वेता अग्रवाल से शादी सोना-चांदी की कीमतों में आई गिरावट मोदी सरकार को वापस लेने होंगे काले कानून- राहुल गांधी जंहा माराडोना को मिली शोहरत, वहीं लगी थी ड्रग्‍स की लत नीतीश कुमार ने किया तेजस्वी यादव पर पलटवार कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने चिंता जताई जानें चुकंदर खाने के 10 फायदे 'दिल्ली चलो' मार्च-किसानों को मिली दिल्ली में घुसने की इजाजत अगली सुनवाई 11 दिसंबर को होगी जेल से बाहर आने के लिए लालू को अभी और करना होगा इंतजार ममता को लगा बड़ा झटका-शुभेंदु अधिकारी ने परिवहन मंत्री के पद से दिया इस्तीफा Corona Update- जापान और कंबोडिया की लैब के फ्रीजर में पड़े मिले चमगादड़ों में मिले कोरोना के वायरस NCR के शहरों से दिल्ली में आज भी प्रवेश नहीं करेगी मेट्रो लालू की जमानत को लेकर बोलीं राबड़ी देवी-न्यायालय का जो भी फैसला होगा, मंजूर होगा Indian Air Force 2020 : आवेदन की प्रक्रिया शुरू, सिर्फ कल शाम 5 बजे तक का समय UP-लड़की के शव को नोच कर खा रहे है कुत्ते की फोटो हुई वायरल इस महीने फिर बढ़े 7वीं बार पेट्रोल-डीजल के दाम 27 नवम्बर का राशिफल आइए जानते है क्यों की जाती है कार्तिक पूर्णिमा के दिन तुलसी पूजा आज भी दिल्ली कूच पर अड़े किसान MSP से किसानों को परेशानी हुई तो छोड़ दूंगा राजनीति- सीएम खट्टर

गलवान घाटी का जिक्र कर बोले अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ

Gauri Manjeet Singh 27-10-2020 15:29:47

नई दिल्ली,Localnewsofindia-भारत और अमेरिका ने नई दिल्ली में आयोजित तीसरी '2+2' मंत्री स्तरीय बैठक में सोमवार को BECA समझौते (बेसिक एक्सचेंज एंड कोऑपरेशन अग्रीमेंट) पर हस्ताक्षर किए। इस समझौते के बाद भारत-अमेरिका के बीच सूचनाओं को आसानी से साझा किया जा सकेगा। बैठक के बाद अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ, रक्षा मंत्री मार्क एस्पर और भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर और राजनाथ सिंह ने संयुक्त बयान जारी किया। राजनाथ सिंह ने कहा कि बैठक में दोनों देशों ने कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर विस्तृत चर्चा की है और बीईसीए समझौता एक महत्वपूर्ण कदम है। वहीं, माइक पोम्पिओ ने जून महीने में हुई गलवान घाटी में हिंसा का भी जिक्र किया।  

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ''अमेरिका के साथ सैन्य स्तर का हमारा सहयोग बहुत बेहतर तरीके से आगे बढ़ रहा है, रक्षा उपकरणों के संयुक्त विकास के लिए परियोजनाओं की पहचान की गई है। हम हिंद-प्रशांत क्षेत्र में शांति और सुरक्षा के लिए फिर से अपनी प्रतिबद्धता जताते हैं।''

संयुक्त बयान के दौरान अमेरिका ने चीन पर निशाना साधा। गलवान का जिक्र करते हुए माइक पोम्पिओ ने कहा कि हमने नेशनल वॉर मेमोरियल का दौरा किया, जहां भारतीय सशस्त्र बलों के बहादुर जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। इसमें गलवान घाटी में शहीद हुए 20 जवान भी शामिल थे। उन्होंने आगे कहा कि कहा कि अमेरिका भारत के साथ खड़ा है क्योंकि दोनों संप्रभुता, लिबर्टी के खतरों का सामना कर रहे हैं। माइक पोम्पिओ ने चीन पर हमला बोलते हुए कहा कि हमारे नेता और जनता स्पष्ट तौर पर देख रही है कि चीन की कम्युनिष्ट पार्टी लोकतंत्र, कानून और पारदर्शिता को नहीं मानती है।

खतरों से निपटने में भारत संग खड़े: पोम्पिओ

पोम्पिओ ने कहा, ''हम संपूर्ण सुरक्षा खतरों से निपटने के लिए संबंधों को मजबूती प्रदान कर रहे हैं न कि सिर्फ चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की चुनौती के मद्देनजर। हम भारत की संप्रभुता के खतरों से निपटने के लिए उसके साथ खड़े हुए हैं। अमेरिका और भारत के बीच हमारे लोकतंत्रों और साझा मूल्यों की रक्षा के लिए बेहतर तालमेल है। वहीं, अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने भी संयुक्त बयान के दौरान बताया कि अमेरिका भारत के साथ खड़ा हुआ है। उन्होंने कहा, ''हमारे साझा मूल्यों और साझा हितों के आधार पर, हम स्वतंत्र और ओपन इंडो-पैसिफिक के समर्थन में कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं, विशेष रूप से चीन द्वारा बढ़ती आक्रामकता और अस्थिर करने वाली गतिविधियों के मद्देनजर। एस्पर ने आगे कहा कि जैसा कि दुनिया एक वैश्विक महामारी और बढ़ती सुरक्षा चुनौतियों का सामना कर रही है, भारत-अमेरिका की साझेदारी क्षेत्र और दुनिया की सुरक्षा, स्थिरता और समृद्धि सुनिश्चित करने के लिए पहले से कहीं अधिक महत्वपूर्ण है।

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने क्या कहा?

'टू प्लस टू वार्ता' के बाद संयुक्त बयान जारी करते हुए विदेश मंत्री जयशंकर ने कहा कि  हमारे राष्ट्रीय सुरक्षा तालमेल में वृद्धि हुई है, हिन्द-प्रशांत हमारी चर्चा का एक केंद्र रहा है। उन्होंने कहा कि बैठक में हुई चर्चा के दौरान हमारे पड़ोसी देशों को लेकर भी जिक्र किया गया। हमने स्पष्ट किया कि सीमा पार आतंकवाद पूरी तरह से अस्वीकार्य है।

  • |

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :