नई विशेष ट्रेन दिल्ली से कई शहरों के लिए चलाने की तैयारी कोरोना संक्रमित पत्रकार ने एम्स की बिल्डिंग से कूदकर की आत्महत्या DRDO ने भी 12 दिन में बनाया 1000 बेड का अस्पताल अब सुजानपुर में युवाओं की टोली ने थामा कांग्रेस का दामन सैनिकों के जल्द से जल्द पीछे हटने पर सहमत हुए डोभाल और वांग भारत के साथ सैन्य बातचीत में बनी सहमति पर अमल ग्वालियर में बिना मास्क लगाए पकड़े जाने पर मिलेगी अजीब सजा डोभाल ने की थी चीन के विदेश मंत्री से बात, 2 किलोमीटर पीछे हटी चीनी सेना दक्षिणी चीन सागर में हमारे 2-2 विमानवाहक तैनात कोविड-19 के मरीज जल्द हो रहे हैं ठीक : अरविंद केजरीवाल कानपुर एनकाउंटर में मुख्य हत्यारोपी विकास दुबे के ऊपर राशि ढाई लाख का इनाम देश के इंजीनियरों को दिया चैलेंजदेश के इंजीनियरों को दिया मेड इन इंडिया ऐप का चैलेंज शराब के नशे में चूर पुलिस कर्मी ने एक महिला को अपनी कार से रौंद कानपुर एनकाउंटर से पहले विकास दुबे से SO विनय तिवारी ने की थी बात दक्षिण चीन सागर में युद्धपोतों का अभ्यास, चीन से निपटने को तैयार अमेरिका सीएम योगी का ऐलान शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों को एक-एक करोड़ भारत और अमेरिका की दोस्ती को देखकर चीन को 'जलन' 4.5 की तीव्रता से हिली दिल्ली-एनसीआर में धरती पीएम नरेंद्र मोदी के लेह दौरे से चिढ़ा चीन लेह पहुंचे पीएम :- आपका मुकाबला कोई नहीं कर सकता : पीएम मोदी

अब भारत में बनेंगे Iphone काम कीमत में अगले महीने से मिल सकेंगे

इससे आईफोन सस्ता होने की उम्मीद है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से गुरुवार को यह रिपोर्ट दी। इसके मुताबिक कुछ मंजूरियां बाकी हैं लेकिन, उम्मीद है कि आईफोन एक्सआर और एक्सएस अगस्त में बिक्री के लिए उपलब्ध हो जाएंगे।

Deepak Chauhan 12-07-2019 17:00:09



भारत में बन रहे आईफोन अगले महीने बाजार में आ सकते हैं। इससे आईफोन सस्ता होने की उम्मीद है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से गुरुवार को यह रिपोर्ट दी। इसके मुताबिक कुछ मंजूरियां बाकी हैं लेकिन, उम्मीद है कि आईफोन एक्सआर और एक्सएस अगस्त में बिक्री के लिए उपलब्ध हो जाएंगे। फॉक्सकॉन कंपनी एपल के लिए भारत में इन आईफोन की मैन्युफैक्चरिंग कर रही है। भारत में आईफोन एक्सआर की शुरुआती कीमत करीब 56 हजार रुपए और एक्सएस की करीब 1 लाख रुपए है।


आईफोन महंगे होने की वजह से भारत में एपल का सिर्फ 1% मार्केट शेयर

भारत में अभी तक आईफोन इंपोर्ट किए जा रहे हैं। इन पर 20% आयात शुल्क लगता है। लेकिन, लोकल मैन्युफैक्चरिंग होने से टैक्स बचेगा। इससे कीमतें घटाने का रास्ता साफ हो जाएगा। साथ ही एपल लोकल सोर्सिंग के नियम भी पूरे कर पाएगी।

भारत दुनिया का दूसरा बड़ा स्मार्टफोन मार्केट है। यहां एपल डिवाइस काफी पसंद की जाती हैं लेकिन, कीमतें ज्यादा होने की वजह से यहां एपल का मार्केट शेयर सिर्फ 1% है।

एपल सस्ते मॉडल एसई, 6एस और आईफोन 7 की असेंबलिंग भी भारत में करवा रही है। विस्ट्रॉन कॉर्प कंपनी की बेंगलुरु यूनिट में इनकी असेंबलिंग की जाती है। रिसर्च फर्म काउंटरप्वाइंट के मुताबिक इन्हें भारत से यूरोप एक्सपोर्ट किया जाता है।

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :