कपिल मिश्रा और भाजपा ने दिल्ली दंगों को भड़काया : कांग्रेस अमेरिका का भारत को धन्यवाद कहा : 1959 से परम पावन और तिब्बती लोगों को शरण देने के लिए हम भारत को धन्यवाद देते हैं।'' पिछले 24 घंटो में 22,252 नए मामलो के साथ भारत में कुल 7,19,665 कोरोना मरीज नई विशेष ट्रेन दिल्ली से कई शहरों के लिए चलाने की तैयारी कोरोना संक्रमित पत्रकार ने एम्स की बिल्डिंग से कूदकर की आत्महत्या DRDO ने भी 12 दिन में बनाया 1000 बेड का अस्पताल अब सुजानपुर में युवाओं की टोली ने थामा कांग्रेस का दामन सैनिकों के जल्द से जल्द पीछे हटने पर सहमत हुए डोभाल और वांग भारत के साथ सैन्य बातचीत में बनी सहमति पर अमल ग्वालियर में बिना मास्क लगाए पकड़े जाने पर मिलेगी अजीब सजा डोभाल ने की थी चीन के विदेश मंत्री से बात, 2 किलोमीटर पीछे हटी चीनी सेना दक्षिणी चीन सागर में हमारे 2-2 विमानवाहक तैनात कोविड-19 के मरीज जल्द हो रहे हैं ठीक : अरविंद केजरीवाल कानपुर एनकाउंटर में मुख्य हत्यारोपी विकास दुबे के ऊपर राशि ढाई लाख का इनाम देश के इंजीनियरों को दिया चैलेंजदेश के इंजीनियरों को दिया मेड इन इंडिया ऐप का चैलेंज शराब के नशे में चूर पुलिस कर्मी ने एक महिला को अपनी कार से रौंद कानपुर एनकाउंटर से पहले विकास दुबे से SO विनय तिवारी ने की थी बात दक्षिण चीन सागर में युद्धपोतों का अभ्यास, चीन से निपटने को तैयार अमेरिका सीएम योगी का ऐलान शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों को एक-एक करोड़ भारत और अमेरिका की दोस्ती को देखकर चीन को 'जलन'

शेयर बाजार में एक बार दिखी दुबारा हलचल लुढ़का सेंसेक्‍स

सप्‍ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को यस बैंक के शेयर में एक बार फिर गिरावट देखने को मिली. शुरुआती कारोबार में यस बैंक के शेयर 1 फीसदी तक टूट गए. इससे पहले गुरुवार के कारोबार में यस बैंक में 15 फीसदी की बड़ी गिरावट आई. बैंक के शेयर लुढ़क कर 83.70 के स

kunika katiyar 19-07-2019 12:36:46



भारतीय शेयर बाजार के लिए शुक्रवार की शुरुआत ठीक रही लेकिन कुछ मिनटों में ही बाजार में दबाव का माहौल देखने को मिला. कारोबार की शुरुआत में 39 हजार के पार कारोबार करने वाले सेंसेक्‍स में आधे घंटे के भीतर 15 अंक की गिरावट दर्ज की गई.

सेंसेक्‍स 38,900 के नीचे कारोबार करता दिखा. इसी तरह निफ्टी की बात करें तो 11 हजार 590 के स्‍तर पर आ गया.  इससे पहले गुरुवार को घरेलू शेयर बाजार में तीन दिनों से जारी तेजी पर ब्रेक लग गया. बिकवाली के भारी दबाव में सेंसेक्स 318 अंक लुढ़कर 38,897 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी भी करीब 91 अंकों की गिरावट के साथ 11 हजार 597 के स्‍तर पर रहा. इस दौरान ऑटो और मेटल सेक्टरों के सूचकांकों में दो फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई.

यस बैंक में गिरावट का दौर जारी

सप्‍ताह के आखिरी कारोबारी दिन शुक्रवार को यस बैंक के शेयर में एक बार फिर गिरावट देखने को मिली. शुरुआती कारोबार में यस बैंक के शेयर 1 फीसदी तक टूट गए. इससे पहले गुरुवार के कारोबार में यस बैंक में 15 फीसदी की बड़ी गिरावट आई. बैंक के शेयर लुढ़क कर 83.70 के स्तर पर आ गए, जो 5 साल का नया लो है. हालांकि शेयर बाजार बंद होने के बाद यस बैंक 12.85 फीसदी की गिरावट के साथ 85.80 के स्‍तर पर रहा. बता दें कि यस बैंक खराब तिमाही नतीजे आने की वजह से कंपनी के शेयर टूट रहे हैं.

इस बीच शुक्रवार को रुपये की मजबूती के साथ शुरुआत हुई. यह डॉलर के मुकाबले 17 पैसे की मजबूती के साथ 68.78 रुपये के स्तर पर खुला. इससे पहले गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपया 14 पैसे की कमजोरी के साथ 68.95 रुपये के स्तर पर बंद हुआ.

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :