Select location to see news around that location.Select Location

बारिश में सरकारी स्कूलों की हालत, कमरे में बैठकर छतरी के नीचे पढ़ते हैं बच्चे

बारिश में सरकारी स्कूलों की हालत, कमरे में बैठकर छतरी के नीचे पढ़ते हैं बच्चे

बागपत: ऐसी है यहां सरकारी स्कूलों की हालत, कमरे में बैठकर छतरी के नीचे पढ़ते हैं बच्चे

यहां हुई बारिश ने सरकारी स्कूलों की पोल खोलकर रख दी है।

बागपत. यहां हुई बारिश ने सरकारी स्कूलों की पोल खोलकर रख दी है। इन स्कूलों की छतों से पानी चू रहा है। विद्यार्थी छतरी लेकर कक्षा के अंदर पढ़ रहे है। दरअसल, लगातार कई दिनों की बारिश से छतो से पानी टपकने लगा। जगह-जगह बाल्टी लगाकर पानी को फैलने से रोका जा रहा है। छात्र अपने घर से लाये छातों से किताबों और खुद को भीगने से बचा रहे हैं।

कई बार हुई शिकायत लेकिन नहीं हुई मरम्मत: छतों से टपकते पानी के नीचे पढ़ते बच्चे की हालत बागपत के प्राथमिक विद्यालय 3 में देख कर आसानी से लगाई जा सकती है। इस स्कूल में साढ़े छह सौ बच्चे पढ़ते हैं। जबकि यहां केवल 6 कमरे हैं। जिनमें से दो कमरों की छते दरक चुकी है। बीएसए से कई बार शिकायत भी की जा चुकी है। मरम्मत और निर्माण के लिये सरकार से पैसा आया भी लेकिन निर्माण नहीं हुआ और पैसा वापस चला गया।

क्या कहती हैं टीचर: बागपत के प्राथमिक विद्यालय न। 3 की प्रधानाचार्य कल्पना त्यागी का कहना है कि वो इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों को कई बार कर चुकी है लेकिन स्थिति जस की तस बनी हुई है और आजतक इस जर्जर विद्यालय को सही नहीं कराया गया। बच्चे इसी तरह बरसात के मौसम में छतरी लेकर आते है और पढ़ाई करते है।


Khushboo

Khushboo

undefined Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top
To Top