Select location to see news around that location.Select Location

बोरवेल पर कब्जा कर बशीरन बन गई थी पानी माफिया

बोरवेल पर कब्जा कर बशीरन बन गई थी पानी माफिया

नई दिल्ली- संगम विहार में अपराध की गॉडमदर बशीरन उर्फ ममी बोरवेल + के जरिए माफिया बनी थी। पुलिस का कहना है कि इलाके के अधिकतर सरकारी बोरवेल पर बशीरन का कंट्रोल था। इनसे जितने भी घरों में पानी जाता था वह उनसे बिल के नाम पर मंथली पैसे लेती थी। बशीरन को पानी माफिया के रूप में जाना जाता था। वह नौजवानों को ट्रेनिंग भी देती थी। अपने आठों बेटों को बशीरन ने क्राइम की दुनिया में उतार दिया था।डीसीपी रोमिल बानिया ने बताया कि बशीरन और उसके बेटों ने इलाके के सरकारी बोरवेल पर कंट्रोल कर लिया था। वे इलाके में पानी माफिया के तौर पर पानी की सप्लाइ करते थे। बशीरन पर कॉन्ट्रैक्ट किलिंग + , एक्साइज ऐक्ट और हत्या के 9 मुकदमे, उसके बेटों में शमीम उर्फ गूंगा पर 42, शकील पर 15, वकील पर 13, राहुल खान पर 3, फैजल पर 9, सनी पर 9 और सलमान और इसके एक नाबालिग बेटे पर भी केस हैं। यह इलाके में दहशत का पर्याय बनती जा रही थी। पुलिस का कहना है कि बशीरन अपने बेटों के साथ मिलकर संगम विहार और आंबेडकर नगर इलाके में रहने वाले कुछ नौजवानों को बदमाश बनाने का भी काम करती थी। उन्हें यह अपने गैंग में भर्ती करती। नए बदमाश नजराना भी देते थे। इलाके में अपना और अधिक दबदबा कायम करने के लिए गैंग को बड़ा करती जा रही थी। बशीरन और उसके बेटों का गैंग संगम विहार के अलावा बाकी दिल्ली में भी पैर पसारना चाह रहे थे। उसके बेटे लूट, हत्या और किडनैपिंग में भी शामिल रहे हैं। फरार होने के दौरान वह अहमदाबाद, इलाहाबाद, मणिपुर और फिरोजाबाद में रही।


Madhu Dheer

Madhu Dheer

undefined Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top
To Top