Select location to see news around that location.Select Location

वाॅट्सएेप-फेसबुक आईडी डिलीट कर हॉस्टल में स्टूडेंट ने लगाई फांसी,पुलिस के आने से पहले फंदे से उतार मर्चूरी ले गए साथी

वाॅट्सएेप-फेसबुक आईडी डिलीट कर हॉस्टल में स्टूडेंट ने लगाई फांसी,पुलिस के आने से पहले फंदे से उतार मर्चूरी ले गए साथी

वाॅट्सएेप-फेसबुक आईडी डिलीट कर हॉस्टल में स्टूडेंट ने लगाई फांसी, पुलिस के आने से पहले फंदे से उतार मर्चूरी ले गए साथी

पुलिस ने न तो कमरे की जांच की, न ही घटना देखने वाले उसके जूनियर छात्र के बयान लिए।

इंदौर.अरबिंदो हॉस्पिटल के बाॅयज होस्टल में रहने वाले फिजियोथेरेपी फाइनल ईयर के 24 वर्षीय छात्र ने अपने कमरे में फांसी लगा ली। इससे पहले उसने अपने मोबाइल से वाॅट्सएप और फेसबुक अकाउंट भी डिलीट किए। उसकी टेबल पर एक नोट पैड व पेन मिला है। पुलिस ने कमरा सील कर दिया है। वहां सुसाइड नोट है या नहीं, इसका अभी पता नहीं चला है।

पुलिस के मुताबिक, दोपहर 2.40 बजे होस्टल की बिल्डिंग बी-10 की है। यहां अंबिकापुर निवासी छात्र अक्षय गुप्ता वर्ष 2013 से फिजियोथेरेपी की पढ़ाई कर रहा था। वह फाइनल ईयर का स्टूडेंट था। इसी काॅलेज में उसकी बहन शालिनी भी पढ़ती है जो उसकी बैचमेट है। अक्षय संपन्न परिवार से था। उसके पिता संजय अंबिकापुर में शिक्षक हैं। वे पत्नी सहित इंदौर के लिए रवाना हो गए हैं। उन्होंने भी किसी परेशानी से इनकार किया है, वहीं साथी छात्रों ने भी कोई समस्या या परेशानी से इनकार किया।

एसआई ने न कमरे की जांच की, न बयान लिए

घटना की सूचना पर एसआई घनश्याम सिंह भदौरिया मौके पर पहुंचे। उन्होंने न तो कमरे की जांच की, न ही घटना देखने वाले उसके जूनियर छात्र के बयान लिए। उसके मोबाइल, कमरे के गैजेट्स व अन्य वस्तुओं को भी नहीं देखा। उनके पहुंचने के पहले ही अरबिंदो हॉस्पिटल के डाॅक्टर छात्र को फंदे से उतार कर मर्चूरी में ले गए थे। पुलिस ने कमरा भी नहीं तलाशा, न ही शव के कपड़े तलाशे। सुसाइड नोट को लेकर भी जानकारी नहीं दी। पुलिस उसका कमरा सर्च करेगी।


Khushboo

Khushboo

undefined Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top
To Top