Select location to see news around that location.Select Location

भाई भाभी ने हत्या के बाद मृत छोटे भाई के पैरों में ठोकी कीलें, ताकि भूत बनकर परेशान ना करें

भाई भाभी ने हत्या के बाद मृत छोटे भाई के पैरों में ठोकी कीलें, ताकि भूत बनकर परेशान ना करें

अवैध संबंध में छोटे भाई की नृंशस हत्या करने वाले आरोपी भाई और उसकी पत्नी को करधनी पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया

- भाभी से अवैध संबंधों के बाद भतीजियों पर थी बुरी निगाह, परेशान होकर रची साजिश

- करधनी इलाके में नांगल जैसा बोहरा की घटना, आरोपी भाई व भाभी गिरफ्तार

- पहले गंडासे से गर्दन काटी और फिर शव की पहचान नहीं हो इसलिए काटे नाक व कान

जयपुर।करधनी इलाके में अवैध संबंध के चलते छोटे भाई की नृंशस हत्या करने वाले आरोपी भाई और उसकी पत्नी को पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी बड़े भाई ने पहले पत्नी के साथ मिलकर छोटे भाई की गर्दन को गंडासे से वारकर धड़ से अलग कर दिया। शव की पहचान नहीं हो इसके लिए उसके नाक व कान भी काट डालें। यही नहीं, मरने के बाद छोटा भाई कहीं भूत बनकर नहीं परेशान करें। इसलिए आरोपी दंपती ने मृत शरीर के पैरों में लोहे की कीलें भी ठोक डाली।

- डीसीपी पश्चिम अशोक गुप्ता ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी अजय कुमार पासवान और उसकी पत्नी मनिता है। ये दोनों मूल रुप से बिहार में पटना स्थित मंसारी धनरवा गांव के रहने वाले है। वे जयपुर में करधनी थाना इलाके के नांगल जैसा बोहरा में मयूर कॉलोनी स्थित एक मकान में किराए से परिवार के साथ रह रहे है। यहीं, अजय का छोटा भाई विकास भी रहता था। वे मजदूरी कर परिवार चलाते है।

- पूछताछ में सामने आया कि विकास का अपनी भाभी से अवैध संबंध था। पिछले कई दिनों से वह अपनी नाबालिग भतीजीयों पर भी बुरी निगाह रखने लगा था। अक्सर शराब के नशे में रहता था। इसका पता चलने पर अजय ने पत्नी मनिता के साथ मिलकर विकास की हत्या की साजिश रची। शनिवार रात को विकास शराब के नशे में घर पहुंचा। इसका फायदा उठाकर अजय ने रात करीब 11 बजे गंडासे से विकास की गर्दन काटकर धड़ से अलग कर दी।

मृतक के धड़ व सिर को अलग अलग कट्‌टों में बंद कर फेंका

-एसीपी आसमोहम्मद के मुताबिक आरोपियों ने इसके बाद धड़ और सिर को अलग अलग प्लास्टिक के कट्टों में बंद कर पड़ोस के खाली भूखंड में फेंक दिया। इसके बाद मनिता ने खून भरे बिस्तरों को धोकर खून साफ कर दिया। वहीं, किसी के भी चाचा विकास के बारे में पूछने पर शहर से बाहर होने की मनगढ़ंत साजिश रची।

- पड़ौसियों ने कट्‌टे में लाश पड़ी देखकर करधनी थाना पुलिस को सूचना दी। हत्या की सूचना मिलने के बाद डीसीपी गुूप्ता, एडिशनल डीसीपी रतन सिंह व एसीपी झोटवाड़ा आसमोहम्मद मौके पर पहुंचे। तब एसीपी के निर्देशन में करधनी थानाप्रभारी अनिल जसोरिया के नेतृत्व में गठित स्पेशल टीम ने करीब चार घंटे में विकास के शव की शिनाख्त कर ली।

डॉग स्क्वायड टीम का डॉग आया काम, खुलती चली गई गुनाह की परत

- पड़ताल के दौरान डॉग स्क्वायड का डॉग सूंघते हुए आरोपी अजय के घर तक पहुंच गया था। इससे पुलिस का शक गहरा गया। घर के आंगन में तार पर गीली दरी टंकी हुई नजर आई। कुछ रक्त के कण मिट्‌टी में मिले। जिसे एफएसएल टीम ने जब्त कर लिया।

- प्रारंभ में पुलिस ने विकास के भाई अजय और उसकी भाभी व दोनों भतीजियों से शव की शिनाख्त के बारे में पूछा। लेकिन परिवार ने शव पहचानने से इंकार कर दिया। बयान बदलने पर संदेह होने से पुलिस ने आरोपी भाभी को हिरासत में लिया।

पूछताछ में कबूली वारदात, बेटियों की भूमिका की पड़ताल शुरु

- पुलिस ने आरोपी अजय को भी पकड़कर पूछताछ शुरु की। तब हत्या की बात कबूली। इस पर पुलिस ने आरोपी दंपती को गिरफ्तार कर लिया। सोमवार को शव के मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम के बाद आरोपी अजय ने ही अपने छोटे भाई के शव का अंतिम संस्कार किया।

- वारदात में प्रयुक्त गंडासा भी बरामद कर लिया है। अब वारदात में आरोपी दंपती की बेटियों की भूमिका की पड़ताल की जा रही है। वे दोनों ही नाबालिग है। आरोपियों के बिहार स्थित मूल गांव में पुलिस से संपर्क कर आपराधिक रिकार्ड की जांच की जा रही है।


Khushboo

Khushboo

undefined Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top
To Top