Select location to see news around that location.Select Location

U 19 मैच में टीम कोई भी हो, ट्रॉफी तो बस एक भारतीय की होगी। U 19 मैच में टीम कोई भी हो, ट्रॉफी तो बस एक भारतीय की होगी।

U 19 मैच में टीम कोई भी हो, ट्रॉफी तो बस एक भारतीय की होगी।    U 19 मैच में टीम कोई भी हो, ट्रॉफी तो बस एक भारतीय की होगी।

नई दिल्ली। अंडर- 19 विश्व कप 2018 का फाइनल मैच शनिवार (03 फ़रवरी ) को भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला जाएगा। इस खिताबी मुकाबले में कोई भी टीम जीते लेकिन ट्रॉफी तो एक भारतीय खिलाड़ी की ही होगी। आप सोच रहे होंगे की ऐसा कैसे हो सकता है कि एक भारतीय खिलाड़ी कप उठाएगा, तो चलिए आपकी ये दुविधा भी दूर कर देते हैं। इस टूर्नामेंट में भारत की टीम की कमान पृथ्वी शॉ कर रहे हैं। वहीँ ऑस्ट्रेलिया की टीम की कप्तानी जेसन सांघा जो की भारतीय मूल के खिलाड़ी है। ऑस्ट्रेलिया टीम की अगुवाई करने वाले 18 वर्षीय सांघा भारतीय मूल के पहले क्रिकेटर हैं। सांघा के पिता पंजाब के भटिंडा के रहने वाले हैं और वह राज्य के एथलीट रह चुके हैं। इतना ही नहीं ऑस्ट्रेलिया की इस टीम में सांघा के अलावा एक और भारतीय मूल का खिलाड़ी मौजूद परम उप्पल, इनका जन्म पंजाब और हरियाणा की राजधानी चंडीगढ़ में हुआ है। ऐसा रहा है ऑस्ट्रेलिया का सफर !!!!!! इस टूर्नामेंट की शुरुआत में ऑस्ट्रेलिया को पहले ही मैच में भारत के हाथों 100 रन से हार का सामना करना पड़ा था। इसके बाद ऑस्ट्रेलिया ने जिम्बाम्बे को 7 विकेट से मात देकर इस विश्व कप में अपनी पहली जीत दर्ज की थी। अगली जीत कंगारुओं ने पपुआ न्यू गिनी के खिलाफ 311 रन से दर्ज की। सेमीफाइनल में क़्वार्टर फाइनल में ऑस्ट्रेलिया का सामना इंग्लैंड से हुआ और इस मैच को कंगारुओं ने 31 रन से जीत दर्ज की। सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने अफगानिस्तान को 6 विकेट से मात देकर फाइनल में जगह बनाई। ऐसा रहा भारत का सफर !! तीन बार चैंपियन रह चुकी भारतीय टीम ने टूर्नामेंट में सबसे पहले ऑस्ट्रेलिया को 100 रन से हराया। इसके बाद भारत के सामने दो कमजोर विरोधी रहे पपुआ न्यू गिनी को भी टीम इंडिया ने पस्त कर दिया और फिर जिम्बाम्बे को मात देकर भारतीय टीम ने क़्वार्टर फाइनल में बांग्लादेश को भी पस्त कर दिया था । सेमीफाइनल में टीम इंडिया ने अपने कट्टर विरोधी पाकिस्तान को 203 रन से धुल चटाकर शान से फाइनल का टिकट कटा लिया। छठी बार फाइनल खेलेगा भारत। पाकिस्तान को मात देकर टीम इंडिया ने छठी बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई है। टीम इंडिया ने 2002 ,2006 ,2008, 2012 और 2016 में इस टूर्नामेंट के फाइनल तक का सफर तय किया था और अब ये छठा मौका है जब टीम इंडिया के इन युवा खिलाडियों ने फाइनल का टिकट कटाया है। दोनों एक बराबर टीम के बीच ये रोमांचक मैच होने जा रहा है जिन्होंने तीन- तीन बार ट्रॉफी जीती है। अंडर 19 विश्व कप में सिर्फ भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें ही ऐसी टीमें हैं जिन्होंने 3 -3 बार विश्व कप का खिताब अपने नाम किया है। ऑस्ट्रेलिया ने 1988,2002, और 2010 में , तो भारत ने 2000 2008 और 2012 में ये खिताब अपने नाम किया। 2006 और 2016 में टीम इंडिया फाइनल में तो पहुंची थी , लेकिन वो इस ट्रॉफी को नहीं जीत पाई थी । ऑस्ट्रेलिया को फाइनल में सिर्फ भारत ने हराया - इस टूर्नामेंट के फाइनल में भारत ही एक ऐसी टीम है जो ऑस्ट्रेलिया को मात देने वाला एकलौता देश है। इससे पहले 2012 में भी इन दोनों टीमों का सामना अंडर- 19 विश्व कप के फाइनल में हुआ था। उस मुकाबले में भारत ने कंगारुओं को 6 विकेट से मात देकर विश्व कप जीत लिया था। वो पहला मौका था जब किसी टीम ने अंडर 19 विश्व कप के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को मात दी थी।
http://electtv.com/sports/u-19--437746


Share it
Top
To Top