भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर ओवैसी का पलटवार कहा ये PM के अभियान को एक चुनौती धोनी नहीं लेंगे संन्यास टीम मैनेजमेंट नहीं चाहती टीम में खालीपन छत्तीसगढ़ से हज के लिए जाने वाले यात्रियों का हुआ स्वास्थ्य परीक्षण मुंबई के बांद्रा स्थित MTNL बिल्डिंग में लगी आग,मौके पर दमकल की 4 गाड़ियां चंद्रयान- 2 की हुई सफल लॉन्चिंग, पूरी दुनिया ने देखी भारत की तरक्की सोशल मीडिया पर प्रियंका चोपड़ा का स्मोकिंग करते हुए फोटो वायरल, यूजर्स ने जमकर किया ट्रोल नवोदय विद्यालय की छठीं कक्षा की छात्रा ने की ख़ुदकुशी, पिता ने जताया संदेह एम्स सहित सभी मेडिकल कॉलेज में प्रवेश के लिए केवल नीट परीक्षा अनिवार्य राष्ट्रीय राजमार्ग के सभी टोल प्लाजा पर जल्द ही बनेंगे फास्टैग लेन रेड लाइट जम्प कर मर्सिडीज ने दूसरी कार काे मारी टक्कर, कार में सवार PM के सुरक्षा जवान की मौत SC ने दिए बाबरी विध्वंस मामले में 9 महीने के अंदर फैसला सुनाने के आदेश 150 किमी प्रति घंटे की रफ़्तार से बॉलिंग करने वाले नवदीप सैनी टी-20 और वन डे टीम में चयन टीम इंडिया से खेलेंगे ये दो भाई दीपक चाहर और राहुल चाहर उत्तराखंड के 133 गांवों में पिछले 3 महीने नहीं पैदा हुई एक भी बेटी, जिला प्रशासन में मचा हड़कंप फैज़ाबाद के विश्वविद्यालय में दी जा रही है कृषि उत्पादन सम्बन्धी जागरूकता मोदी-योगी टी-शर्ट पहनकर कांवड़ ला रहे हैं शिवभक्त RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन बन सकते है IMF के नए मैनेजिंग डायरेक्टर यूपी और राजस्थान में रविवार रात बिजली गिरने से 36 लोगों की मौत 95% तक पानी की बर्बादी रोकने के लिए नल की बनाई टोंटी दिल्ली के किदवई भवन में लगी आग

ओशो कभी नहीं थे किसी को अलग करने के पक्ष में

Deepak Chauhan 21-06-2019 14:11:54


Videos




विश्व में अपना नाम रोशन करने वाले रजनीश जैन उर्फ़  ओशो आज इस दुनिया में नहीं है, लेकिन उनके द्वारा दिए गए वचनों में आज भी वाही  जान है जो उस वक्त थी | ओशो बहुत ही ज्ञानी  व्यवहारिक और प्रैक्टिकल बातों पर विश्वास करते थे ,उन्होंने कभी अं धविश्वास, दकियानूसी बातों पर विश्वास नहीं किया नहीं किया  अपने अनुयायियों से कहा की वह इस तरह की जिंदगी ना  जिए ओशो हमेशा यही कहते रहे कि पहले आप इन भौतिक संसाधनों से अपने जीवन को तृप्त कर लो उसके बाद ही आपको कुछ हासिल होगा कहना बहुत आसान था करना बहुत कठिन था | 


आज का मनुष्य इन भौतिक संसाधनों के  मिथ्या जाल में लालच में इतना फंसा हुआ है कि उसने अपनी  आत्मा को परमात्मा से जुड़ने के तमाम रास्ते बंद हो गए हैं. फिर भी वह जिए जा रहा है इस पर उसने कहा है की पहले तो आप तमाम पीपाआशाओं को शांत करें फिर आपको भगवान जिसकी खोज मनुष्य सदियों से करते आ रहा है एक क्षण में प्राप्त हो जायेंगे  उनके कहने का मतलब यह था कि पहले आप इस भ्रमित जीवन से तो बाहर निकले इस जंजाल को तो थोड़े तभी तो आगे की रहा है आसान होगी ओशो की तमाम कोशिशों के बावजूद यह दुर्भाग्य रहा है कि उन्होंने ने या उनके शिष्यों ने अभी तक अपने आप को इस मुकाम तक नहीं पहुंचा पाए स्वयं ओशो  अपने पूरे जीवन काल में इसी भगवान की खोज करते रहे लेकिन नहीं मिले बहुत उपदेश उन्होंने दिए उनकी वाणी में सम्मोहन शक्ति थी तर्क कसौटी पर खरे उतरते थे सुनने वालों को लगता था कि यह बहुत ही सत्य है लेकिन जब तक वह  उसे सुनता था तभी तक वह सम्मोहित रहता था सुनने के बाद उसने अपने जीवन में इसका अमल नहीं  किया ना ही ओशो की वाणी ने उस पर स्थाई छाप छोड़ी |

Quotes

" "

Share On Facebook

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :