ताइवान ने करी विश्व की पहली समलैंगिक प्रदर्शनी की मेजबानी अपनी कार को मोबाइल क्लिनिक बना कर रहे गॉव वालों का उपचार अपनी जेब से 6 लाख खर्च कर पशु और पक्षियों के लिए रख रहा पानी के बर्तन शाहजहांपुर में किन्नरों ने काटा 20 साल के युवक का प्राइवेट पार्ट अमेरिका में ऐप्पल की नोखरी छोड़ गांव में करने लगा खेती भारतीय एथलेटिक दूती चन्द ने अपने समलैंगिक संबंध को दी हरी झंडी अब बीच सेक्स में कंडोम नहीं देगा धोखा कुछ इस तरह का नजर आ रहा है युद्ध के बाद यमन भीख मांगने वाले गिरोह के 2 से 17 साल तक के 44 बच्चाें काे रेस्क्यू किया 140 साल पुराना धोबी घाट Tik-Tok स्टार मोहित मोर की गोली मारकर हत्या दिल्ली: शाहदरा में बेटे ने दुकान के खातिर किया पिता का मर्डर सलमान खान के शो बिग बॉस 13 में होगा बड़ा बदलाव राजीव गांधी की पुण्यतिथि आज एक गांव जहाँ पर लड़की की वर्जिनिटी टेस्ट पर टिका होता है शादी जैसा पवित्र रिश्ता आमिर खान के भांजे इमरान खान अपनी पत्नी अवंतिका मलिक से हुए अलग अब महिला के नाइटी पहने का समय भी फिक्स महिला Undergarment को लेकर क्यों उतरे सड़क पर लोग भारत में लॉन्च हुई Hyundai की नई SUV Venue ये थी बॉलीवुड के पहली स्टंट वुमेन

तीन मासूम बेटियों के साथ जहर खाकर दी जान

Khushboo 09-05-2019 15:26:51

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां एक बाप ने अपनी तीन बेटियों के साथ जहर खाकर जान दे दी है. इस खुदकुशी की वजह आर्थिक तंगी बताई जा रही है. मृतक दीपक गुप्ता वाराणसी के लक्सा थाने के नई सड़क गीता मंदिर इलाके का रहने वाला था.

बताया जा रहा है कि जब दीपक गुप्ता ने अपनी 9 वर्षीय बेटी नव्या, 7 वर्षीय अदिति और 5 वर्षीय रिया के साथ आत्महत्या की, तो उस वक्त उसकी पत्नी घर पर नहीं थी. दीपक गुप्ता ने अपनी पत्नी को पीटकर मायके भेज दिया था. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है. पुलिस का कहना है कि खुदकुशी की वजह की जांच की जा रही है.

बताया जा रहा है कि जब परिजनों को दीपक गुप्ता के जहर खाने की जानकारी मिली, तो उनको फौरन पहले कबीरचौरा और फिर ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान चारों ने दम तोड़ दिया. परिजनों के मुताबिक मृतक दीपक गुप्ता के ऊपर कर्ज का बोझ था, जिससे वह परेशान रहता था. हालांकि आस-पड़ोस के कुछ लोग आईपीएल में सट्टेबाजी की बात कर रहे हैं.

मृतक दीपक गुप्ता की भतीजी साक्षी ने बताया कि बुधवार रात चाचा दीपक की तीन बेटियां नव्या, अदिति और रिया बाहर आंगन में सोई हुई थीं. इस दौरान दीपक गुप्ता आए और उनको उठाकर कमरे में ले गए. इसके बाद वो दादी के कमरे में टीवी देखने लगे. कुछ देर बाद छोटी वाली बेटी रिया आई और दादी से बोली की पापा ने उनको कुछ पीला दिया है.

साक्षी ने बताया कि इस पर दादी कमरे में गईं और तीनों बेटियों और चाचा दीपक को उठाकर अपने साथ लेकर बाहर आईं. इसके बाद चाचा दीपक गुप्ता टॉयलेट चले गए और बच्चियों को उलटी शुरू हो गई. इसके तुरंत बाद तीनों बच्चियों को कबीरचौरा ले जाया गया. दूसरी तरफ चाचा दीपक गुप्ता भी टॉयलेट से निकले और बेसुध होकर जमीन पर गिर गए. फिर उनको भी कबीरचौरा ले जाया गया. वहां चारों की तबियत बिगड़ते देख नव्या के मामा सबको ट्रामा सेंटर ले गए, जहां सबकी मौत हो गई.

उधर, बीता रात हुई इस सनसनीखेज घटना से पूरा बनारस स्तब्ध है. यह घटना उस समय सामने आई है, जब देश में लोकसभा चुनाव हो रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में अंतिम चरण में 19 मई को वोट डाले जाएंगे. यहां से भारतीय जनता पार्टी के टिकट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दूसरी बार ताल ठोंक रहे है. पिछली बार भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां से लोकसभा चुनाव जीता था और पहली बार संसद पहुंचे थे!

Share On Facebook

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :