भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर ओवैसी का पलटवार कहा ये PM के अभियान को एक चुनौती धोनी नहीं लेंगे संन्यास टीम मैनेजमेंट नहीं चाहती टीम में खालीपन छत्तीसगढ़ से हज के लिए जाने वाले यात्रियों का हुआ स्वास्थ्य परीक्षण मुंबई के बांद्रा स्थित MTNL बिल्डिंग में लगी आग,मौके पर दमकल की 4 गाड़ियां चंद्रयान- 2 की हुई सफल लॉन्चिंग, पूरी दुनिया ने देखी भारत की तरक्की सोशल मीडिया पर प्रियंका चोपड़ा का स्मोकिंग करते हुए फोटो वायरल, यूजर्स ने जमकर किया ट्रोल नवोदय विद्यालय की छठीं कक्षा की छात्रा ने की ख़ुदकुशी, पिता ने जताया संदेह एम्स सहित सभी मेडिकल कॉलेज में प्रवेश के लिए केवल नीट परीक्षा अनिवार्य राष्ट्रीय राजमार्ग के सभी टोल प्लाजा पर जल्द ही बनेंगे फास्टैग लेन रेड लाइट जम्प कर मर्सिडीज ने दूसरी कार काे मारी टक्कर, कार में सवार PM के सुरक्षा जवान की मौत SC ने दिए बाबरी विध्वंस मामले में 9 महीने के अंदर फैसला सुनाने के आदेश 150 किमी प्रति घंटे की रफ़्तार से बॉलिंग करने वाले नवदीप सैनी टी-20 और वन डे टीम में चयन टीम इंडिया से खेलेंगे ये दो भाई दीपक चाहर और राहुल चाहर उत्तराखंड के 133 गांवों में पिछले 3 महीने नहीं पैदा हुई एक भी बेटी, जिला प्रशासन में मचा हड़कंप फैज़ाबाद के विश्वविद्यालय में दी जा रही है कृषि उत्पादन सम्बन्धी जागरूकता मोदी-योगी टी-शर्ट पहनकर कांवड़ ला रहे हैं शिवभक्त RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन बन सकते है IMF के नए मैनेजिंग डायरेक्टर यूपी और राजस्थान में रविवार रात बिजली गिरने से 36 लोगों की मौत 95% तक पानी की बर्बादी रोकने के लिए नल की बनाई टोंटी दिल्ली के किदवई भवन में लगी आग

सीमेंट फैक्ट्री से होता है सबसे ज्यादा AIR POLUTION

Deepak Chauhan 24-06-2019 17:12:34



हानिकारक ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन के लिए आम तौर पर गाड़ियों को जिम्मेदार ठहराया जाता है, लेकिन इसमें सीमेंट इंडस्ट्री का योगदान ट्रकों से ज्यादा है। सीमेंट इंडस्ट्री 6.9% ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन के लिए जिम्मेदार है। जबकि दुनियाभर में ट्रकों से 6.1% ग्रीन हाउस गैसें निकलती है। यह दावा ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट में किया गया है।

सीमेंट कंपनियों के पास इन गैसों के उत्सर्जन को कम करने का तरीका नहीं है, लेकिन वैकल्पिक तकनीक अपनाने से सीमेंट लागत बढ़ जाती है। यूरोपियन सीमेंट एसोसिएशन के अनुसार, एक टन सीमेंट बनाने में आधा टन कार्बन डाई ऑक्साइड गैस निकलती है, जबकि एक ट्रक 2000 किमी की दूरी तय करने में भी इतनी गैस का उत्सर्जन नहीं करता।


लाइमस्टोन से निकलती कार्बन डाइ ऑक्साइड

सीमेंट प्रोडक्शन के लिए एक खास किस्म की रासायनिक प्रक्रिया अपनाई जाती है। इसमें कार्बन का उत्सर्जन बहुत ज्यादा होता है। इस सेक्टर में दो तिहाई हानिकारक गैसों का उत्सर्जन लाइम स्टोन के जलने से होता है। इसके जलने के लिए भट्टी का तापमान 1400 डिग्री सेल्सियस तक करना पड़ता है। लाइम स्टोन जलने पर बड़ी मात्रा में कार्बन डाइऑक्साइड गैस छोड़ता है। 


किससे कितनी जहरीली गैसों का उत्सर्जन 

इंटरनेशनल एनर्जी एजेंसी डब्ल्यूईओ के अनुसार, ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन में स्टील इंडस्ट्री का योगदान 5.1% है। ट्रकों से 6.1% और कारों से 7.9% ग्रीन हाउस गैसें निकलती हैं। अन्य माध्यमों में जैसे बिजली प्रोडक्शन, कृषि और फोरेस्ट्री आदि से 73.8% ऐसी हानिकारक गैस निकलती हैं।


लाफार्ज ने सीओ-2 मुक्त सीमेंट बनाया है इसलिए यह महंगा है

दुनिया की दूसरी नंबर की सबसे बड़ी सीमेंट कंपनी लाफार्ज ने कार्बन उत्सर्जन मुक्त (सीओ-2) सीमेंट का उत्पादन शुरू किया है, लेकिन इसकी कीमत अधिक होने के कारण ग्राहक इसे खरीदना नहीं चाहते हैं।

Quotes

" "

Share On Facebook

Comments

Subscribe

Receive updates and latest news direct from our team. Simply enter your email below :